बाबा गुरु घासीदास ने दिया शांति, प्रेम और भाईचारे का संदेश : भूपेश

गुरू घासीदास जयंती के समापन समारोह में विजेता टीमों को प्रदान किए पुरस्कार

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि प्रदेश सरकार बाबा गुरू घासीदास के बताये मार्ग और सिद्धांतों पर चल रही है। गुरू घासीदास बाबा ने पूरी मानवता को सत्य, अहिंसा, प्रेम, शांति एवं भाईचारा का रास्ता दिखाया। बाबा ने मनखे-मनखे एक समान का संदेश दिया। राज्य सरकार ने कार्य भार संभालते ही सबसे पहला काम किसानों से किया गया वायदा कर्ज माफी का पूरा किया। 2500 रूपये प्रति क्विंटल की दर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की। श्री बघेल आज बेमेतरा जिले के नवागढ़ में आयोजित राज्य स्तरीय गुरू घासीदास जयंती समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर आयोजित ओपन पंथी नृत्य प्रतियोगिता की विजेता टीमों को आयोजकों की ओर से पुरस्कार वितरित किए, प्रथम पुरस्कार ग्राम मुड़िया जिला मुंगेली पंथी नर्तक दल को एक लाख 51 हजार रूपये, द्वितीय पुरस्कार ग्राम चारभाठा बेमेतरा को एक लाख 10 हजार एवं तृतीय पुरूस्कार उतई जिला दुर्ग को 75 हजार प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने नवागढ़ में गुरू घांसीदास जयंती समारोह प्रत्येक वर्ष मनाये जाने की घोषणा की। विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रदेश के गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, विधायक बेमेतरा श्री आशीष छाबड़ा एवं चंद्रपुर विधायक श्री रामकुमार यादव उपस्थित थे। विधायक नवागढ़ श्री गुरूदयालसिंह बंजारे के नेतृत्व में समस्त सतनामी समाज क्षेत्र नवागढ़ द्वारा इस समारोह का आयोजन किया गया। आयोजन समिति की ओर से मुख्यमंत्री सहित अतिथियों को पगड़ी पहनाकर स्वागत किया गया। नगर पंचायत नवागढ़ के नवनिर्वाचित पार्षदों ने विशाल फूल माला से मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया। हेलीकॉप्टर से उतरते ही मुख्यमंत्री एवं अतिथियों ने जोड़ा जैतखाम जाकर पूजा-अर्चना की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे भारत में धान का सबसे ज्यादा कीमत देने वाला राज्य छत्तीसगढ़ है। इसी तरह तेंदूपत्ता श्रमिकों को 4000 रूपये प्रति मानक बोरा की दर से भुगतान किया जा रहा है। प्रदेश में सार्वभौम पी.डी.एस. के जरिये सभी को 35 किलोग्राम चावल प्रतिमाह दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि हमारे पुरखों ने समृद्ध एवं खुशहाल छत्तीसगढ़ का सपना देखा था। हमारी सरकार प्रदेश के किसान, मजदूर अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, युवा, महिलाओं सहित सभी वर्गों की खुशहाली के लिए कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री ने किसानों को भरोसा देते हुए कहा कि किसानों को धान खरीदी का प्रति क्विंटल 25 सौ रूपये की दर से ही भुगतान किया जायेगा। किसानों के मन में किसी प्रकार का संशय नहीं होना चाहिए। यह बात हमने विधानसभा में भी कही है और आज नवागढ़ के विशाल जन समुदाय के बीच दोहरा रहा हूं। इसके लिए कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित कर दी है, जिसमें केबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर, डॉ. प्रेमसाय सिंह, अमरजीत भगत एवं उमेश पटेल सदस्य हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा 32 लाख मिट्रिक टन चावल केन्द्रीय पूल में खरीदने का अनुरोध किया था इसमें केन्द्र द्वारा स्पष्ट सहमति नहीं दी जा रही है। प्रदेश के किसान कड़ी मेहनत कर अन्न उपजाते हैं। अन्न का अपमान हम बर्दाश्त नहीं करेंगे।

गृहमंत्री श्री साहू ने कहा कि बाबा गुरू घासीदास जी ने पूरी दुनिया को मानवता की राह दिखाई। बाबा ने सत्य ही ईश्वर है और ईश्वर ही सत्य है का संदेश दिया। बाबा के बताये रास्ते पर चलकर ही हम समाज एवं देश को आगे बढ़ा सकते हैं। कृषि मंत्री श्री चौबे ने कहा कि वर्षों बाद नवागढ़ में बहुत ही भव्य कार्यक्रम देखने का मौका मिला, बाबा गुरू घासीदास ने सत्य, अहिंसा, शांति का रास्ता दिखाया, प्रदेश सरकार बाबा के बताये रास्ते पर चल रही है। छत्तीसगढ़ को शांति का टापू कहा जाता है। यहां सभी आपस में मिल जुलकर रहते हैं सामाजिक सद्भाव, आपसी प्रेम एवं भाईचारा छत्तीसगढ़ की पहचान है।