सेन्ट पॉल केथेड्रल पहुंचे सीएम भूपेश, केक काट कर किया क्रिसमस सेलिब्रेट

मसीही समाज सहित प्रदेशवासियों को दी ‘क्रिसमस‘ की शुभकामनाएं

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज क्रिसमस पर्व पर राजधानी रायपुर के सेन्ट पॉल केथेड्रल पहुंचकर मसीही समाज सहित प्रदेशवासियों को प्रभु यीशु मसीह के जन्मदिन ‘क्रिसमस‘ की बधाई और शुभकामनाएं दी । बघेल ने इस अवसर पर कहा कि प्रभु यीशु ने संपूर्ण मानव जाति के कल्याण के लिए करूणा, प्रेम, दया और सेवा का मार्ग दिखाया। उनकी शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक हैं। हमें आज उनके बताये जीवन मूल्यों को लेकर चलने की जरूरत है ताकि पूरी दुनिया में शांति की स्थापना हो सके। उनके बताए दया, करुणा, प्रेम और सेवा के मूल्यों को हमें अपने जीवन में अपनाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर केथेड्रल में उपस्थित लोगों के साथ केक काटकर क्रिसमस सेलिब्रेट किया । उन्होंने सभी लोगों को केक खिलाकर क्रिसमस की खुशियां बांटी। चर्च के गायन दल ने कैरोल गीत प्रस्तुत किए।

मुख्यमंत्री बघेल ने इस अवसर पर कहा कि प्रभु यीशु मसीह का जन्मदिन क्रिसमस पूरी दुनिया में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है । लोगों को और विशेषकर बच्चों को इस दिन का बेसब्री से इंतजार रहता है। उन्होंने इस अवसर पर सभी लोगों के लिए प्रभु यीशु से सुख, समृद्धि की कामना की । बघेल ने कहा कि राज्य सरकार प्रभु यीशु के बताए मार्ग पर चलकर समाज के सभी वर्गों और प्रदेश के विकास के लिए तत्पर है। इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी, विधायक डॉ. रेणु जोगी और कुलदीप जुनेजा, नव निर्वाचित पार्षद एजाज ढेबर, बिशप राबर्ट अली, पादरी शमशेर सैमुअल, चर्च कोर्ट के अध्यक्ष जान राजेश पाल समेत मसीही समाज के सदस्य और बच्चे बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ी भाषा में बाइबल
कार्यक्रम का संचालन केथेड्रल कोर्ट के अध्यक्ष जॉन राजेश पॉल ने छत्तीसगढ़ी भाषा में किया। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि समाज द्वारा छत्तीसगढ़ी भाषा में बाइबल प्रकाशित की गई है और चर्च में समय-समय पर छत्तीसगढ़ी भजन भी गाए जाते हैं। चर्च द्वारा यह भी तय किया गया है कि वर्ष में एक रविवार को चर्च की पूरी आराधना छत्तीसगढ़ी में करेंगे । इस अवसर पर डीकन मर्कुश केजु सेवक अब्राहम दास और श्री वानी भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री को चर्च की ओर से स्मृति चिन्ह और विशेष बाइबिल भेंट की गई।