Corona Effect :प्रदेश के सभी निजी अस्पतालों व नर्सिंग होम को सरकार ने किया टेकओवर

बीते 24 घंटे में 5 नए मरीज मिलने के बाद छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा कदम

रायपुर। कोरोना वायरस (corona virus) के संक्रमण (infection) से बचने और उसकी रोकथाम के लिए छत्तीसगढ़ सरकार (Chhattisgarh government) ने एक बड़ा कदम उठाया है। प्रदेश की भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली सरकार ने प्रदेश भर के तमाम प्राइवेट हॉस्पिटल और नर्सिंग होम को टेकओवर कर लिया है। यह फैसला छत्तीसगढ़ सरकार ने बीते 24 घंटे में 5 नए मरीज मिलने के बाद लिया है। सरकार को इस बात का अंदेशा है कि मरीजों की संख्या और भी बढ़ सकती है, लिहाजा भविष्य में सभी को सुरक्षित और संक्रमण से बचाने के लिए राज्य सरकार ने यह फैसला लिया है।

स्वास्थ्य विभाग से सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आपात सेवाओं में राज्य सरकार का अधिकार होता है, जिसमें वे नर्सिंग होम और प्राइवेट हॉस्पिटल को पूर्णता अधिग्रहित कर सकते है। कोरोनावायरस के लगातार बढ़ रहे संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार ने यह कदम उठाया है। छत्तीसगढ़ पब्लिक हेल्थ एक्ट 1949 की धारा 50 और 51 के तहत राज्य सरकार ने कोरोना को संक्रमण घोषित किया है। ऐसे में अब प्रदेश सरकार अधिग्रहित अस्पतालों में मौजूदा हालातों के मद्देनजर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बिस्तरों की संख्या का विस्तार, उपचार की व्यवस्था, आइसोलेशन समेत तमाम तरह की चिकित्सकीय व्यवस्थाओं पर जोर दे रही है।

संबंधित पोस्ट

कोरोना वायरस मां के दूध में नहीं, पर बरतें ये सावधानी

Corona Effect : संकट में शब-ए-बारात, फीका पड़ गया जश्न

कोरोना वायरस से शांतिदूतक भगवान महावीर की जयंती पर लगा ब्रेक…

दो भिंडी व चार टमाटर का बहाना बनाकर घर से निकले और सीधे पहुंचे कोतवाली…

Corona Update : कोरोना के बढ़ रहे मामले, एलएनजेपी, जीबी पंत अस्पताल करेंगे ओपीडी बंद

बिहार : 18.40 लाख राशन कॉर्डधारकों के खाते में गई कोरोना सहायता राशि

सोनिया के आरोप का जवाब देते हुए अमित शाह ने कांग्रेस पर निशाना साधा

कोरोना वायरस के बचाव के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कर रहीं जागरूक

मजदूरों के भोजन और रुकने की व्यवस्था के लिए भूपेश सरकार ने दिए 3.80 करोड़ रूपए

Corona Update : कोरबा में मिला पॉजिटिव मरीज़ एम्स में हुआ शिफ़्ट

कोरोना से लडने बम्लेश्वरी ट्रस्ट ने मदद के लिए बढ़ाया हाथ

Corona Update : मप्र में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 20