रेल सुविधा : अप्रैल से नवंबर तक विभिन्न ट्रेनों में लगे 2868 से ज़्यादा एक्स्ट्रा कोच

साल 2018-19 में विभिन्न ट्रेनों में लगे थे 1653 अतिरिक्त कोच

रायपुर। रेल सुविधाओं में लगातार विस्तार के लिए रायपुर रेल मंडल और बिलासपुर जोन काम कर रहा है। साल 2019 में यात्रियों को उनके बेहद आराम के साथ गंतव्य तक पहुंचने के लिए दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने विभिन्न रूट की ट्रेनों में 2868 से ज़्यादा एक्स्ट्रा कोच लगा कर गाड़ियों का संचालन किया है, ताकि यात्रियों को ट्रेन में सीट एवं बर्थ आसानी से मिल सकें।

                     साल 2018-19 मे 1653 अतिरिक्त कोच विभिन्न ट्रेनों मे लगाये गए थे। वर्तमान वित्तीय वर्ष के अप्रेल से नवंबर 2019 तक ही में 2868 कोच अतिरिक्त लगाये जा चुके है। पिछले साथ की तुलना में रेलवे प्रशासन ने इस साल के नवंबर महीने तक ही 1215 ज़्यादा कोच के साथ गाड़ियों का परिचालन किया है।
अगर माह वार कोचों की संख्या पर नज़र डाली जाए तो अक्टूबर महीने में सबसे ज़्यादा 431 कोच लगाए गए, वहीं सबसे कम कोच की संख्या 265 अप्रैल महीने में रही। जानकारी के साल 2019 अप्रैल में 265, मई में 389, जून में 366, जुलाई में 349, अगस्त में 347, सितम्बर में 320 अक्टूबर में 431 और नवंबर महीने में 415 सहित कुल 2868 कोच लगाये गये है। इस वर्ष नवंबर तक 8 माह में 1648 सामान्य कोच लगाये गये है। SECR ने 2018 के नवंबर माह तक सिर्फ 1291 अतिरिक्त कोच लगाए गये थे, जबकि इस साल नवंबर 2019 तक 2868 अतिरिक्त कोच की सुविधा प्रदान की गयी है।

इन ट्रेनों में सबसे ज़्यादा एक्स्ट्रा कोच
दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन में ज़्यादातर अमरकंटक एक्सप्रेस, दुर्ग-पुरी एक्सप्रेस, रीवा पैसेंजर कम एक्सप्रेस, अम्बिकापुर एक्सप्रेस, सारनाथ एक्सप्रेस, दक्षिण बिहार एक्सप्रेस, बिलासपुर-भोपाल एक्सप्रेस, इंटरसिटी एक्सप्रेस, शिवनाथ एक्सप्रेस आदि ट्रेनों में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से छूटने वाली ट्रेनों में लगाए जाती है।