सिंहदेव को फिर बड़ी जिम्मेदारी, झारखंड के लिए बनाए गए पर्यवेक्षक

27 दिसंबर को हो सकती है हेमंत की ताजपोशी

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मंत्री टी.एस. सिंहदेव को झारखंड में कांग्रेस विधायक दल की बैठक के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है। बैठक के दौरान विधानसभा में पार्टी का नेता चुना जाएगा। कांग्रेस ने झारखंड विधानसभा में 16 सीटों पर जीत हासिल की है और राज्य में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ गठबंधन के तहत बहुमत हासिल किया है। निवर्तमान विधानसभा में आलमगीर आलम सदन में पार्टी के नेता थे। राज्य में भाजपा को हराने के बाद कांग्रेस खुश है। झारखंड में सोमवार को झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन ने जीत हासिल की। कांग्रेस ने कहा कि जनता ने भाजपा की ‘जन विरोधी’ और ‘संविधान विरोधी’ नीतियों को अस्वीकार कर दिया है। कांग्रेस महासचिव के.सी. वेणुगोपाल ने कहा कि झारखंड विधानसभा चुनाव के परिणाम (प्रधानमंत्री) नरेंद्र मोदी और भाजपा के विभाजनकारी और विघटनकारी राजनीतिक कार्यो के खिलाफ एक स्पष्ट और पुष्ट जनादेश हैं। वेणुगोपाल ने कहा कि झारखंड के लोगों ने अहंकारी भाजपा को मुंहतोड़ जवाब दिया है।

27 को हेमंत सोरेन ले सकते है शपथ
झारखंड में महागठबंधन की जीत के बाद झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नेता हेमंत सोरेन की ताजपोशी की तैयारी शुरू हो गई है। सूत्रों ने बताया कि वह 27 दिसंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। मुख्यमंत्री के रूप में यह हेमंत सोरेन का दूसरा कार्यकाल होगा। सूत्रों के अनुसार, भव्य शपथ ग्रहण समारोह खुले मैदान में आयोजित किया जाएगा। समारोह में दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्री और घटक दलों के नेता भी शिरकत करेंगे। सूत्रों ने बताया कि सभी गैर-भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को न्योता भेजा जा रहा है। इस समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी न्यौता भेजा जाएगा। इन नेताओं को न्योता देने हेमंत सोरेन खुद दिल्ली जा सकते हैं।

बेहतर रहा है झामुमो का परफॉर्मेंस
महागठबंधन के पक्ष में चली चुनावी बयार में बड़े राजनीतिक उलट-फेर हुए हैं। झामुमो ने अपना अब तक का सबसे शानदार प्रदर्शन किया और सबसे ज्यादा सीटें जीती हैं। महागठबंधन में शामिल कांग्रेस ने भी अप्रत्याशित प्रदर्शन करते हुए झामुमो को सत्ता तक ले जाने में बड़ी भूमिका निभाई और राजद ने भी खाता खोला है। चुनाव में महागठबंधन को मिलीं 47 सीटों में झामुमो की 30, कांग्रेस की 16 सीटें और राजद की एक सीट शामिल है। भाजपा 25 सीटों पर विजयी रही।

संबंधित पोस्ट

सरगुजा संभाग में बारिश, 22 जनवरी तक रहेंगे छाए रहेंगे बादल

जशपुर से सटे झारखंड में नक्सल हत्या !

गौरी लंकेश हत्या मामले का संदिग्ध झारखंड से गिरफ्तार

सैनिक पति की लाश देख पत्नी ने भी जान दे दी

झारखंडः किसके कितने होंगे मंत्री, कयास जारी

झारखंडः सोरेन के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्ष का महाजुटान

झारखंडः राहुल ने केवल 5 सभाएं कीं और जीत दिलाई मोदी से ज्यादा

झारखंडः कमल की एक पंखुड़ी फिर टूटी

झारखंड : इन पांच कारणों ने छीन लिया रघुवर के सिर से ताज

झारखंड : दो बच्चियों के साथ दुष्कर्म, महिलाओं का फूटा गुस्सा

पासपोर्ट में “कमल निशान” पर बवाल…सिंहदेव बोले- What’s next ?

अंबिकापुर में नामवापसी पर हंगामा, गालीगलौच और मारपीट में उतारू भाजपा-कांग्रेस के नेता