नाचा नाटक खेल और चित्रकला से सजेगा “युवा महोत्सव 2020”

12 जनवरी से होने वाले महोत्सव में 6,521 प्रतिभागी लेंगे हिस्सा

रायपुर। राजधानी रायपुर में आगामी 12 जनवरी से तीन दिवसीय राज्य स्तरीय युवा महोत्सव का आगाज होगा। राज्य स्तरीय युवा महोत्सव का उद्घाटन 12 जनवरी को राजधानी खेल संचालनालय परिसर में निर्मित मुख्य मंच में सुबह 10 बजे होगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशन और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल के मार्गदर्शन पर ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को निखारने और छत्तीसगढ़ की कला संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए इस बार प्रदेश में भव्य तरीके से युवा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। राजधानी रायपुर में आयोजित राज्य स्तरीय युवा महोत्सव में 15 से 40 वर्ष और 40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के प्रदेश भर के छह हजार 521 प्रतिभागी भाग लेंगे। इनमें 3 हजार 613 पुरूष,2 हजार 433 महिला प्रतिभागी और 301 पुरूष और 174 महिला अधिकारी कर्मचारी शामिल हैं।

राज्य स्तरीय युवा महोत्सव का आयोजन राजधानी रायपुर के खेल संचालनालय परिसर, पण्डित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय ऑडिटोरियम, विज्ञान महाविद्यालय ऑडिटोरियम, विश्वविद्यालय खेल परिसर में किया जाएगा। विभिन्न आयोजन स्थलों में सुबह 9 बजे से लेकर रात 9 बजे तक अलग-अलग विद्याओं की प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी। 12 जनवरी को खेल संचालनालय परिसर के मुख्य मंच में करमा नाच, द्वितीय मंच में लोक नृत्य तथा ओपन मंच में राउत नाचा का आयोजन होगा। खेल संचालनालय के ऊपर के हॉल में दोहपर 1 बजे शाम 6 बजे तक निबंध और चित्रकला प्रतियोगिता होगी। पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में दोपहर 1 बजे से शाम 6.30 बजे तक लोकगीत (1500 सीटर हॉल में), शास्त्रीय हिन्दुस्तानी और कर्नाटक संगीत (100 सीटर हॉल में), गिटार और सितार वादन (60 सीटर हॉल में) की प्रतियोगिताएं होगी। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय प्रेक्षागृह में दोपहर 1 बजे से रात्रि 7 बजे तक एकांकी नाटक और विज्ञान महाविद्यालय ऑडिटोरियम में दोपहर 1 बजे से रात्रि 8 बजे तक तबला वादन की प्रतियोगिता होगी। विश्वविद्यालय खेल प्रतियोगिता परिसर के खुले मैदान में दोहपर 1 बजे से निरंतर खेल खो-खो(महिला एवं पुरूष), कबड्डी (महिला) का आयोजन होगा।

युवा महोत्सव के तहत 13 जनवरी को खेल संचालनालय परिसर के मुख्य मंच में  सुबह 9 बजे से रात्रि 7 बजे तक लोक नृत्य, सरहुल नृत्य, द्वितीय मंच में सुवा नृत्य, डण्डा नाच और ओपन मंच में पंथी,बस्तरहिया नृत्य की प्रतियोगिता होगी। पंडित दीनदयाल ऑडिटोरियम में 1500 सीटर हॉल में सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक कत्थक, ओडिसी, कुचीपुड़ी, मणीपुरी नृत्य प्रतियोगिता, 100 सीटर हॉल में तात्कालिक भाषण, भरतनाट््यम और पारम्परिक वेशभूषा प्रतियोगिता और 60 सीटर हॉल में बांसुरी वादन प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय ऑडिटोरियम में सुबह 9 बजे से रात्रि 9 बजे तक एकांकी नाटक और विज्ञान महाविद्यालय ऑडिटोरियम में सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक हारमोनियम, मृदंगम और वीणा वादन की प्रतियोगिता होगी। खेल संचालनालय के ऊपर हॉल में सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक वाद-विवाद और क्विज की प्रतियोगिता और खेल परिसर डोम में फूड फेस्टिवल का आयोजन सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक किया जाएगा। विश्वविद्यालय खेल प्रतियोगिता परिसर के खुले मैदान में खेल खो-खो(महिला एवं पुरूष), कबड्डी (महिला), गेड़ी दौड़ का सेमी फाइनल और फाइनल राऊंड खेला जाएगा।

14 जनवरी को खेल संचालनालय परिसर के मुख्य मंच में सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक रॉक बैंड और ओपन मंच में फुगड़ी, भौंरा प्रतियोगिता और हॉल में सुबह 10 बजे से दोहपर 12 बजे तक क्विज का फाइनल राऊंड का आयोजन होगा। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय ऑडिटोरियम में 7 जिलों के एकांकी नाटक और विश्वविद्यालय खेल परिसर में सुबह 9 बजे से 11 बजे तक खो-खो (महिला/पुरूष),कबड्डी (महिला/पुरूष) के सेमीफाइनल, फाइनल राउंड एवं यदि मैच शेष रहते हैं तो हार्ड लाईन मैच का आयोजन होगा। 14 जनवरी को दोपहर 2 बजे खेल संचालनालय परिसर में समापन समारोह आयोजित होगा।

संबंधित पोस्ट

पूर्व CM रमन सिंह की पत्नी पाई गई कोरोना संक्रमित,अस्पताल में भर्ती

लोकवाणी की नौवीं कड़ी में गोधन-किसान न्याय योजना पर रहा मुख्यमंत्री का फोकस

मुख्यमंत्री ने बीजापुर जिले की जनता को दी 96 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की सौगात

लाॅकडाउन के बीच छत्तीसगढ़ के स्कूली बच्चों को मिला मध्यान्ह भोजन का सूखा राशन

Video:राज्यपाल ने मुख्यमंत्री को राखी भेज जताया बहन का स्नेह और विश्वास

CM भूपेश अपील,लॉकडाउन की स्थिति से बचने सुरक्षा और बचाव के नियमों का पालन करें

Video:मुख्यमंत्री भूपेश से धमतरी की महिला समूहों ने की सौजन्य मुलाकात

स्वच्छ भारत मिशन पुरस्कार प्राप्त करने 30 जुलाई से 15 अगस्त तक करें आवेदन

Video-गोधन न्याय योजना: गोबर विक्रेताओं को 5 अगस्त को मिलेगा पहला भुगतान

गोधन न्याय योजना से छत्तीसगढ़ को मिलेगी वैश्विक स्तर पर पहचान

Video : मुख्यमंत्री भूपेश ने किया छत्तीसगढ़ के स्वप्नदृष्टा डॉ.खूबचंद बघेल को नमन

राजीव गांधी किसान न्याय योजना, गोधन न्याय और रोका-छेका कार्यक्रम किसानों के लिए फायदेमंद