307 भवनों का हुआ नियमितीकरण, कुल 6870 प्रकरणों का हुआ निबटान !


रायपुर। अनाधिकृत निर्माण के नियमितीकरण के लिए कलेक्टोरेट में नियमितिकरण समिति की बैठक हुई। बैठक में कुल 307 प्रकरणों का निराकरण किया गया। अब तक नियमितीकरण अभियान के तहत रायपुर जिले में कुल 6870 प्रकरणों का निराकरण हो चुका है। कलेक्टर ने नियमितीकरण के शेष प्रकरणों के निराकरण में तेजी लाने के निर्देश संबंधित विभागीय अधिकारियों को दिए है।
बैठक में कलेक्टर ओ.पी. चौधरी ने निर्देश देते हुए कहा कि अनाधिकृत निर्माण के नियमितीकरण के लिए मास्टर प्लान के अनुरूप नक्शा होना चाहिए। वहीं आवेदक द्वारा प्रस्तुत आवेदन में संलग्न समस्त दस्तावेजों पर निरीक्षणकर्ता अनिवार्य रूप से हस्ताक्षर करें। चौधरी ने कमर्शियल भवनों में पर्याप्त पार्किंग व्यवस्था होने पर ही नियमितीकरण करने की हिदायत दी है। साथ ही उन्होंने नियमितीकरण की कार्यवाही में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।
चौधरी ने बताया कि आवासीय एवं व्यावसायिक भवनों के नियमितीकरण के लिए सड़कों की चौड़ाई शासन द्वारा अलग-अलग निर्धारित की गई है। निर्धारित मापदंड पूरा होने पर ही नियमितीकरण किया जा सकेगा। ऐसे आवासीय भवन जो सड़क की सीमा में नही आते है उनका नियमितीकरण किया जाएगा। बैठक में नगर एवं ग्राम निवेश के संयुक्त संचालक विनीत नायर, नगर निगम के जोन कमिश्नर सहित समिति के अन्य सदस्यगण उपस्थित थे।

संबंधित पोस्ट

राजस्थान में सियासी उठा पटक पर कांग्रेस का भाजपा पर खरीद फरोख्त का आरोप

Corona Update : छत्तीसगढ़ में आज 150 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज आये सामने

’दामिनी एप्प’ से आकाशीय बिजली गिरने के 40 मिनट पहले आप हो जायेंगे सतर्क

Weather : छत्तीसगढ़ के कई जिलों में बारिश की संभावना,आसमान में बादलों का डेरा

आखिरकार कोरोना ने आज छत्तीसगढ़ में मारा सेंचुरी,नए संक्रमित मिले 100

हावड़ा अहमदाबाद एक्सप्रेस और हावड़ा मेल चलेगी साप्ताहिक,रायपुर से गुजरेगी ट्रेन

कोरोना का कहर छत्तीसगढ़ में जारी,शतक के करीब पहुंचा संक्रमण

रमन को रविंद्र का करारा जवाब,ब्लू प्रिंट के बजाय खोजे अपना ब्लैक प्रिंट

छत्तीसगढ़ में कोरोना पॉजिटिव हुआ 3200 के पार,आज भी रायपुर आगे

आज छत्तीसगढ़ में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा करीब 100 को छूने वाला रहा

छत्तीसगढ़ में गोबर ने किया कमाल, समूह की महिलाएं हुई मालामाल

रायपुर जिले में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ा,आज भी मिले सबसे ज्यादा मरीज