राजिम कुंभ कल्प का नाम हुआ “राजिम माघी पुन्नी मेला” सदन में हंगामा

राजिम कुंभ का नाम बदलने पर मचा हंगामा

रायपुर। राजिम कुंभ के नाम बदले जाने पर विधानसभा में ज़बरदस्त बहस हुई। नाम बदलने के मसले को सदन में भाजपा के वरिष्ठ विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने प्रश्काल में उठाया।

उन्होंने प्राचीन पुरानों का जिक्र करते हुए राजिम कुंभ का नाम परिवर्तित की वजह मंत्री ताम्रध्वज साहू से पूछी। जिसके जवाब में ताम्रध्वज साहू ने बताया कि राजिम कल्प कुंभ का नाम सिर्फ बदला है, उसके स्थान पर राजिम माघी पुन्नी मेला किया गया है। जिसके बाद बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश के कई नदी तालाबों के किनारे माघी पुन्नी मेला के नाम पर मेला लगता है, ऐसे में राजिम मेला की महत्ता बढ़ाने और कुंभ शब्द की व्यापकता को देखते हुए ही राजिम कुंभ का नाम रखा गया था, लेकिन सरकार ने उसका नाम बदल दिया। जवाब में ताम्रध्वज साहू ने कहा कि उनकी सरकार ने नाम राजिम कुंभ का नाम नहीं बदला है, बल्कि उन्होंने ही पिछले कार्यकाल में माघी पुन्नी मेले का नाम बदलकर राजिम कुंभ किया था। इसके बाद ताम्रध्वज साहू ने बृजमोहन अग्रवाल पर निशाना साधा। जिसके बाद बृजमोहन अग्रवाल ने प्रांचीन ग्रंथ स्कंद पुराण का जिक्र करते हुए कहा कि पुरान में राजिम को प्रयागराज कहकर संबोधित किया गया था, इसलिए इसे कुंभ नाम दिया गया था, लेकिन इसका नाम क्यों बदला गया है, ये समझ से परे है। इस मसले पर सदन का माहौल गरमाया था।

संबंधित पोस्ट

विधानसभा : एक मामलें पर आधा दर्जन SIT, अध्यक्ष ने भी माँगा जवाब…

विधानसभा के बजट सत्र में सवालों की बौछार, 14 दिन में पहुंचे 2215 प्रश्न

छत्तीसगढ़ विधानसभा : 24 फरवरी से शुरू होगा बजट सत्र, होंगी 22 बैठकें

अविश्वास प्रस्ताव में अडिग रहे डॉ रमन, बाकी से बेहतर रहा सीएलपी सिंहदेव का परफॉर्मेंस

Breaking NEWS : रिंकू की मौत पर भारी हंगामा, सदन कल तक के लिए स्थगित

सरकार का घोषणा पत्र लेकर निकले जूनियर जोगी, ऋचा राय कौशिक समेत गिरफ्तार

शुरू हुआ विधानसभा का पावस सत्र, दिवंगतों को दी गई श्रद्धांजलि

मानसून सत्र : अंतिम सत्र सदन से सड़क तक गरमाएगा माहौल

शिक्षाकर्मी 26 मई को मनाएंगे संविलियन संकल्प दिवस, 90 विधानसभा में होगी सभा