गॉर्डन लवर्स के लिए है ये कार्यशाला, जाने क्या है ख़ास…

रायपुर। रेनी सीजन में अब तक खुद की देखभाल के लिए आप सभी ने लाखों कार्यशाला की ख़बरें पढ़ी होंगी मगर 22 जुलाई को एक अनोखी कार्यशाला राजधानी में होगी। बरसात के मौसम में फूलों की देखरेख व रखरखाव के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन वृंदावन हाल में किया जा रहा है। इसमें इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक डॉ. जीएल शर्मा गमला तैयार करने की विधि व मिट्टी, खाद, पौधों के चयन के पर व्याख्यान देंगें। यह जानकारी प्रकृति की ओर सोसायटी के सचिव मोहन वर्ल्यानी ने दी है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ शासन के उद्यानिकी विभाग के सहायक संचालक एवं उद्यान प्रमुख मनोज कंपोस्ट खाद बनाने की विधि, वर्षाकालीन पौधों के चयन, कीटनाशक दवाएं आदि विषयों पर जानकारी एवं प्रशिक्षण भी देंगे। इस अवसर पर सब्जियों के छोटे पौधे ( सीडलिंग ) और बीज भी मुफ्त बांटे जाएंगे। इस दौरान इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय में उपलब्ध विशेष तकनीकी से बनाए गए अमरूद के पौधे भी उपलब्ध होंगें।

संबंधित पोस्ट

उत्तरप्रदेश से 13 मई को रायपुर पहुंचेंगे छत्तीसगढ़ के मज़दूर

छत्तीसगढ़ के रायपुर,कबीरधाम और कांकेर पंचायत राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए चयनित

रामकोठी का धन अब कोरोना की जंग के लिए किया दान

पत्तल मास्क पहन रहे आदिवासी

Corona Effect : राजधानी रायपुर के रेलवे स्टेशन पर दिखा जनता कर्फ्यू का असर

रायपुर : दलदल सिवनी में पीलिया और डायरिया का प्रकोप

रायपुर में 4 फरवरी को दिव्यांगजनों के लिए प्लेसमेंट कैंप

बाप को शराब पिला, बेटी से बलात्कार

रायपुर की गुनविन बनीं कीट नन्हीपरी लिटिल मिस इंडिया 2019

नवरात्रि : हाथी पर विराजमान होकर पहुँची माँ दुर्गा, इन सिद्ध योग मुहूर्त का है संयोग…

क्रेता विक्रेता सम्मेलन : छत्तीसगढ़ के धान को मिलेगा अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार- CM

रायपुर में पार्किंग के लिए नहीं दी जगह तो चलाई गोली…