श्रमिक स्पेशल : तीन ट्रेनों से छत्तीसगढ़ पहुंचेंगे 4 हज़ार से ज़्यादा मज़दूर

दो ट्रेन में महाराष्ट्र तो एक ट्रेन में कर्नाटक से लौटेंगे मज़दूर

रायपुर। केंद्र और राज्य सरकारों ने मिलकर देशभर में फसें मज़दूरों को उन्हें गृह राज्य पहुंचाने विशेष ट्रेन चलाई है। जिसके बाद अब देशभर में फसें छत्तीसगढ़ के मज़दूरों की वापसी का सिलसिला ज़ारी है। अगले 19, 21 और 22 मई को देशभर के अलग अलग राज्यों में फसें छत्तीसगढ़ के चार हज़ार से ज़्यादा मज़दूर वापस लौटेंगे।

इन ट्रेनों में सफर से पहले समस्त श्रमिको का चिकित्सकीय परीक्षण कराना आवश्यक होगा। कोई भी कोविड़- 19 से पीड़ित या संक्रमित व्यक्ति यात्रा नहीं करेगा। इन ट्रेनों में भारत सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पूरा पालन करते हुए श्रमिको को वापस उनके गृह भेजा जा रहा है। किसी भी श्रमिक से किराया या अन्य कोई भी राशि नहीं ली जाएगी।

19 मई को पुणे से छत्तीसगढ़ राज्य के 1320 श्रमिक पहुचेंगे। विशेष श्रमिक ट्रेन पुणे रेलवे स्टेशन से 18 मई को रवाना होकर 19 मई को बिलासपुर रेलवे स्टेशन तक आएगी। रास्ते में ट्रेन दुर्ग ,रायपुर एवं भाटापारा स्टेशनमें भी रूकेगी। सचिव एवं नोडल अधिकारी सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने इस संबंध में महाराष्ट्र के नोडल अधिकारी को पत्र लिखकर सूचित किया है।

पुणे से 18 मई को होगी रवानगी
इस विशेष श्रमिक ट्रेन में छत्तीसगढ़ राज्य के 1324 श्रमिकों की वापसी होगी। जिसमें बलौदाबाजार के 134 ,बलरामपुर के 3,बेमेतरा 346,बिलासपुर 204, दुर्ग 50, जांजगीर-चांपा 39, जशपुर 1,कांकेर 1,कवर्धा 57, कोंडागांव 3,कोरबा 3, महासमुंद 2, मुंगेली 96, पेंड्रा- गौरेला के 46, रायगढ़ 4, रायपुर 169, राजनांदगांव 149 और सरगुजा के 17 श्रमिक शामिल है।

मुंबई से 1390 श्रमिक की वापसी
मुम्बई से 20 मई को श्रमिक विशेष ट्रेन का प्रस्थान प्रस्तावित है। छत्तीसगढ राज्य में महाराष्ट्र से आने वाले प्रवासी श्रमिकों की संख्या लगभग 1390 है जो राज्य के विभिन्न जिलो के निवासी है। इस ट्रेन में बालोद जिले के 511,बलौदाबाजार 12, बलरामपुर 77,बेमेतरा 238, बिलासपुर 46, दंतेवाड़ा 10, धमतरी 26, दुर्ग 53, गरियाबंद 5, जांजगीर-चांपा 1,जशपुर 93 ,कबीरधाम 40, कांकेर 61, कोंडागांव 2,कोरबा 25,महासमुंद 11,मुंगेली 9,पेंड्रा-गौरेला के 6, रायपुर के 15 और राजनांदगांव के 149 श्रमिक शामिल हैं।

21 मई को बंगलोर से चलेगी ट्रेन
21 मई को बंगलोर से श्रमिक विशेष ट्रेन की रवानगी होनी है। छत्तीसगढ राज्य में इस ट्रेन के माध्यम से आने वाले प्रवासी श्रमिकों की संख्या लगभग 1481 है जो राज्य के विभिन्न जिलों के निवासी है। इस ट्रेन में बालोद जिले के 137 ,बलौदाबाजार 101, बिलासपुर 67 , धमतरी 6, दुर्ग 23, गरियाबंद 21, जांजगीर-चांपा 54 ,कबीरधाम 170, कांकेर 56 , कोण्डागांव के 131,कोरबा 97 ,मुंगेली 25 , रायपुर के 72, बस्तर के 380, बेमेतरा के 44, मुंगेली के 25 ,रायगढ़ के 48 और राजनांदगांव के 49 श्रमिक शामिल हैं।