राज्य निर्वाचन आयुक्त ने की प्रेक्षकों से चर्चा, कहा- नए प्रावधानों के तहत करे काम

निर्वाचन व्यवस्था और आदर्श आचार संहिता के पालन की करें निगरानी

रायपुर। राज्य निर्वाचन आयोग ने त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षकों से आज यहां नवीन विश्राम भवन में चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिए। राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने आदर्श आचार संहिता के पालन, स्वतंत्र व निष्पक्ष निर्वाचन में प्रेक्षकों की भूमिका और जिम्मेदारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने सभी प्रेक्षकों को संबंधित जिले में पहुंचने के बाद अपने नाम, मोबाइल नंबर और मिलने के स्थान व समय की जानकारी समाचार पत्रों के जरिए जनसामान्य और उम्मीदवारों को उपलब्ध कराने कहा।

राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने बताया कि पंचायत आम निर्वाचन के लिए सामान्य प्रेक्षकों की नियुक्ति निर्वाचन नियमों के तहत की गई है। स्वंतत्र, निष्पक्ष, पारदर्शी और सुव्यवस्थित निर्वाचन की जिम्मेदारी प्रेक्षकों की है। उन्होंने कहा कि निर्वाचन संबंधी सभी प्रक्रियाओं और गतिविधियों की निगरानी कर आम जनता एवं उम्मीदवारों द्वारा प्राप्त शिकायतों को निराकरण के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी या रिटर्निंग अधिकारी को भेजें। प्रेक्षक के रूप में नियुक्त भारतीय प्रशासनिक सेवा और राज्य प्रशासनिक सेवा के 35 अधिकारियों ने आयोग से चर्चा की।

नए प्रावधानों के तहत करे काम
राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने प्रेक्षकों को पंचायत निर्वाचन से संबंधित नए नियमों तथा आदेशों में संशोधनों का अध्ययन कर नए प्रावधानों के अनुसार कार्य करने कहा। उन्होंने मतदान केन्द्रों में मतदान और मतगणना की व्यवस्था के संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने मतदान दलों को दिए जा रहे प्रशिक्षण का भी निरीक्षण करने कहा। राज्य निर्वाचन आयोग की सचिव जिनेविवा किंडो ने नगरीय निकाय आम निर्वाचन में प्रेक्षकों के कार्यों की सराहना करते हुए उन्हें धन्यवाद दिया। उन्होंने उम्मीद जताई कि आयोग प्रेक्षकों की सक्रियता से त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन को भी निर्विघ्न और शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने में सफल होगा। ब्रीफिंग में आयोग के उपसचिव दीपक अग्रवाल और डॉ. संतोष कुमार देवांगन तथा अवर सचिव आलोक कुमार श्रीवास्तव भी मौजूद थे।