देश की तस्वीर बदलने वाली 30 महिलाओं में बस्तर की रजिया शेख भी…

दुनिया को महुआ लड्डू का स्वाद चखाया, कुपोषण के खिलाफ हथियार बना

रायपुर। देश की तस्वीर बदलने वाली 30 महिलाओं में जगदलपुर की रजिया शेख भी शामिल है, जिन्हें नीति आयोग ने पुरस्कृत करने चयनित किया है। छत्तीसगढ़ के बस्तर की महक को दुनिया भर में फैलाकर प्रदेश में कुपोषण के खिलाफ अभियान चला रही हैं। बस्तर फूड फर्म एंड कसंल्टिंग से जुड़ी रजिया ने बस्तर की आदिवासी महिलाओं के हाथों बने महुआ के लड्डू की खुश्बू को दुनिया भर में पहुंचाया। अमरीका के कैलिफोर्निया, पालोअल्टो, सैन फ्रांसिस्कों में लड्डू की मार्केटिंग की और इसके फायदे बताए। महिलाओं के इस स्टार्टअप में फंड लगाने की अपील की। रजिया ने सैन फ्रांसिस्को में आयोजित स्टार्टअप राजीव सर्कल फेलोशिप में एशिया का प्रतिनिधित्व किया था।

                            बस्तर में महुआ आदिवासी संस्कृति का हिस्सा है। वे इसे भूनकर गुड़ के साथ खाते हैं। इससे उन्हें काम के लिए भरपूर ताकत मिलती है। इसे ही महुआ लड्डू के नाम दिया गया है। इसमें गुड़, जीरा, सूखा अदरक, लौंग, घी आदि का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें कैरोटीन, एस्कॉर्बिक एसिड, थाइमिन, रिबोफ्लाविन, नियासिन, फोलिक एसिड, बायोटिन और इनॉसिटॉल खनिज आदि पाए जाते हैं। जिसके कारण इसे कुपोषण के खिलाफ जंग में शामिल किया गया। कालीबाड़ी स्कूल रायपुर और माइक्रो बायलाजी में रविशंकर विवि से पढ़ाई पूरी की।

                 वर्तमान में वे जगदलपुर में रहती हैं। रामकृष्ण शारदा सेवाश्रम जगदलपुर के एक कार्यक्रम के द्वारा बस्तर की आदिवासी महिलाओं के एकीकृत विकास और सुरक्षित मातृत्व की पहल के तहत महुआ लड्डू की यात्रा शुरू हुई। इसके पीछे उद्देश्य था पोषण स्तर में सुधार, ऊर्जा व्यय को कम करना और गर्भवती महिलाओं, किशोरी बालिकाओं के लिए सॉफ्ट कौशल विकास के तहत आजीविका के विकल्प का विकास करना था।

संबंधित पोस्ट

बस्तर में एक युवक की एक ही मंडप में दो युवतियों से एक साथ फेरे

बस्तर में मुठभेड़, महिला नक्सली ढेर

4 बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने 35 किमी का सफर 

खदानों की लीज अवधि बढ़ाया जाना नियमविरुद्ध : बस्तर संयुक्त मुक्ति मोर्चा

बस्तर में सीआरपीएफ कैम्प के ऊपर उड़ता दिखा ड्रोन

दंतेवाड़ा में स्कूली छात्रा का प्रसव, हॉस्टल अधीक्षिका निलंबित

बस्तर के वरिष्ठ अधिकारियों ने किया रक्तदान

बस्तर में ग्रामीणों ने छक के पिया लांदा, दर्जन भर से अधिक बीमार

इन बस्तरियों ने अपना रास्ता खुद बना लिया…

बस्तर में पंचायत चुनाव में लगा जवान आया प्रेशर बम की चपेट में, जख्मी

बस्तर : जब मासूम की इच्छा के सामने पुलिस हुई सरेंडर

बस्तर संभाग मुख्यालय से शुरू मधुर गुड़ योजना