बिलासपुर ननिः संध्या की वापसी, कांग्रेस पूर्ण बहुमत में

महापौर के लिए बैठक 30 को, रवीन्द्र चौबे पर्यवेक्षक

बिलासपुर। टिकट न देने से नाराज कांग्रेस की संध्या तिवारी ने पार्टी छॊड़कर निर्दलीय चुनाव लड़कर पार्षद बनी संध्या तिवारी को कांग्रेस ने वापस अपनी पार्टी में ले लिया। इसके साथ ही बिलासपुर नगर निगम में कांग्रेस को पूर्ण बहुमत मिल गया है।

मिली जानकारी के अनुसार संध्या तिवारी ने वार्ड 51, राजकिशोरनगर से निर्दलीय चुनाव लड़ा था। उन्हें कांग्रेस ने टिकट नहीं दी, जिसके बाद उन्होंने संगठन को अपना इस्तीफा भेज दिया था। हालांकि उनका इस्तीफा मंजूर नहीं किया गया था। संध्या ने शनिवार को रायपुर में राजीव भवन पहुंचकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात की। उन्होंने वापस कांग्रेस में शामिल होने तथा महापौर पद के लिए कांग्रेस उम्मीदवार को समर्थन देने की घोषणा की।

70 वार्डों वाले बिलासपुर नगर-निगम में कांग्रेस के 35 पार्षद निर्वाचित हुए थे। मतदान के पश्चात एक विजयी कांग्रेस प्रत्याशी शेख गफ्फार का निधन हो गया। इसके चलते कांग्रेस बहुमत की संख्या में एक पीछे रह गई। भाजपा ने 30 सीटों पर चुनाव जीता है। निर्दलियों ने पांच सीटों पर कब्जा किया है, जिनमें से तिवारी ने कांग्रेस का दामन वापस थाम लिया। अब निर्दलीय पार्षदों की संख्या घटकर चार रह गई है।

पूर्ण बहुमत मिल जाने के बाद अब कांग्रेस महापौर के चयन के लिए बैठक बुलाने जा रही है। जिले के प्रभारी मंत्री व संगठन के पर्यवेक्षक रविन्द्र चौबे 30 दिसम्बर को बिलासपुर पहुंच रहे हैं। वे महापौर प्रत्याशी तय करने के लिए पार्षदों से रायशुमारी करेंगे।

जिला प्रशासन ने भी पार्षदों के शपथ ग्रहण की तैयारी शुरू कर दी है। यह प्रक्रिया 31 दिसम्बर को पूरी की जा सकती है। पार्षदों का सम्मेलन जनवरी माह में 18 तारीख से पहले बुलाया जाना है क्योंकि मौजूदा परिषद का कार्यकाल इस दिन समाप्त हो जाएगा।

संबंधित पोस्ट

कोरोना मरीजों के शवों से भर गया दिल्ली का पंजाबी बाग श्मशान घाट, वीडियो वायरल

राहुल ने पर्यावरण दिवस पर संत कबीर के दोहे साझा किए

गुजरात : कांग्रेस को एक और झटका, मोरबी विधायक ने इस्तीफा दिया

सरकार प्रवासियों की दुर्दशा देखे, उन्हें 7,500 रुपये दे : सोनिया

बिलासपुर श्रीराम केयर हास्पिटल के आईसीयू में भर्ती छात्रा से गैंगरेप, 2 पर एफआईआर

नगर निगम में नहीं हो रहा भुगतान, आयुक्त को सौपा ज्ञापन

लॉकडाउन से कोई नतीजा नहीं, बल्कि जनता को हुआ भारी नुकसान : राहुल गांधी

मप्र : सिंधिया के प्रभाव वाले जिलों की कांग्रेस कार्यकारिणी भंग

पीएम केयर फंड पर कांग्रेस के ट्वीट के लिए सोनिया के खिलाफ एफआईआर

सोनिया-राहुल की मौजूदगी में लांच हुई “राजीव गांधी किसान न्याय योजना”

प्रवासी मजदूरों की पुणे से निकली बस ट्रक से टकराई, तीन की मौत

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 : “फ़ाइव स्टार” वाला हुआ नगर निगम अंबिकापुर