Covid-19 : बाहर से आने वाले 334 लोगों को किया क्वॉरेंटाइन

बाहर से आने वालों के घर जाकर उनसे उनके आने जाने की हिस्ट्री ली गयी

चंद्रकांत पारगीर, कोरिया। सरगुजा संभाग के कोरिया जिले में बाहर से आने वाले 334 लोगो को स्वास्थ्य विभाग ने क्वॉरेंटाइन करके अपनी निगरानी में रखा है, जबकि 15 मजदूरों को बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव की पहल पर रायपुर में ही उनके रहने खाने पीने की व्यवस्था की गई है।
कोरिया जिले में बाहर से आने वालों पर स्वास्थ्य और पुलिस विभाग कड़ी नजर बनाए हुए है, मनेन्द्रगढ़ तहसील में इस मामले में लापरवाही देखी जा रही है जिस पर सीएमएचओ ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी है,

दूसरी ओर बुधवार को दूसरे राज्य से आये कुछ लोगो को जिला अस्पताल ने ऐसे ही चलता कर दिया था जिसके बाद सोशल मीडिया में मामला उजागर हो गया, स्वास्थ्य विभाग हरकत में आया और बाहर से आने वालों ले घर जाकर उनसे उनके आने जाने की हिस्ट्री ली गयी, दूसरे दिन उनके हाथों में सील लगाई गई, यहां 5 लोगो को क्वॉरेंटाइन किया गया, इसके अलावा आबकारी विभाग के आसपास 5 लोगो को क्वॉरेंटाइन किया गया, पहले तो उन लोगो ने बाहर से आना नही बताया, बाद में पुलिस को देख आने जाने की पूरी जानकारी दी, इस तरह स्वास्थ्य विभाग ने जिले भर में 334 लोगो क्वॉरेंटाइन करके उन पर नज़र बनाये रखी है।

आवाजाही पर काफी कुछ नियंत्रण
लॉक डाउन को देखते हुए लोगो की आवाजाही पर कुछ नियंत्रण देखा जा रहा है पर जिले के मनेन्द्रगढ़ में स्थानीय प्रशासन की व्यवस्था बेहद लचर देखी जा रही है, सड़को पर भी और सब्जी मंडी में भी काफी संख्या में लोगो की आवाजाही पर प्रशासनिक नियंत्रण न के बराबर है, जबकि बैकुंठपुर, सोनहत, जनकपुर, खड़गवां में लॉक डाउन का अच्छा असर देखा जा रहा है।

बैकुंठपुर के बाद मनेन्द्रगढ़ को किया सेनेटाइज
आज फिर होम गार्ड के जवानों ने बैकुंठपुर शहर को सेनेटाइज करने का काम शुरू किया, आज बैंक, कलेक्टर कार्यालय सहित एटीएम, पैथोलॉजी लैब को सेनेटाइज किया, जिसके बाद मनेन्द्रगढ़ शहर को सेनेटाइज किया।

मृतक को लाया बैकुंठपुर
इधर, बैकुंठपूर के भंडार पारा के एक कैंसर पीड़ित को लेने रायपुर गए व्यक्ति की लौटते समय पीछे से ट्रक ने मार दिया, जिससे एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई, जिसके बाद बैकुंठपूर विधायक अम्बिका सिंहदेव ने प्रशासन की मदद से उसका शव को बैकुंठपुर पहुंचवाया, अभी एक की हालत गंभीर बनी हुई है।

अम्बिका की पहल पर रायपुर में आईशोलेट
बैकुंठपुर के ग्राम तेंदुआ के 15 मजदूर रायपुर सिलतरा स्थित धनकुल पावर प्लांट में काम करते थे, लॉक डाउन के बाद उन्हें बैकुंठपुर लाना बेहद मुश्किल काम था, बैकुंठपूर विधायक ने मुख्यमंत्री से बात कर सभी को स्थानीय प्रशासन की मदद से वही उनके रहने खाने की व्यवस्था की है। सभी को वही आईशोलेट किया गया है।

संबंधित पोस्ट

धमतरी में कोरोना संदिग्ध ने की आत्महत्या, पिता बोले- नहीं थे कोरोना के लक्षण

हरियाणा : सीएम मनोहर लाल का फ़रमान, जो जहां है, उसे वहीं रोक कर रखें

Corona Effect : “मैं कोरौना से बोल रहा हूं” गांव का नाम बदलना चाहते है…

Corona Update : देश में कोरोना के 1071 मामले, 29 की मौत

Corona Update : संक्रमितों की संख्या देश में 979, विश्वभर में 6 लाख को पार

हरियाणा में बनेगा ‘कोविड-19’ समर्पित अस्पताल

Covid-19 : कोरोना के लिए तैयार कोरिया

कोविड-19 : बीसीसीआई ने किया 51 करोड़ की मदद का वादा

सरगुजा : कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जशपुर की महिलाएं भी

लॉकडाउन में बेखौफ दौड़ते 200 दोपहिया वाहनों पर हुई कार्रवाई

Corona Effect : झारखंड सीएम ने महामारी से लड़ने के लिए दिए 25 लाख रुपये

कोविड-19 का टीका बनाने की एनआईआई ने की पहल