कांग्रेसी नेता के संरक्षण में चल रहा था लकड़ी तस्करी का काम

आरोपियों के कब्जे से इमारती लकड़ी बरामद

जगदलपुर| कोलेंग वन परीक्षेत्र अंतर्गत आने वाले का काकरवाड़ा में वन विभाग की टीम ने लकड़ी तस्कर करने वाले दो आरोपियों को इमारती लकड़ी के साथ पकड़ा है.बताया जा रहा है कि इन लकड़ी तस्करों को एक कांग्रेसी नेता का संरक्षण प्राप्त है और लगातार उनके नाम से वनों की अवैध कटाई कर इमारती लकड़ी तस्करी कर रहे थे.पकड़े गये आरोपियों ने इस बात की पुष्टि भी की कि उन्हें उक्त कांग्रेसी नेता के कहे अनुसार ही काम चल रहा हैं.

इमारती लकड़ी बरामद
वन अधिकारी रामदत्त नागर के अनुसार बीती रात काकरवाड़ा इलाके में 3 गाड़ियों में भरकर इमारती लकड़ी जंगल के बाहर शहर की ओर ले जाने प्लान तैयार किया था.सूचना मिलते ही रामदत्त नागर अपने हमराह स्टाफ के साथ का काकरवाड़ामेन चौक पर घेराबंदी कर एक पिकअप वाहन को पकड़ने में कामयाब हुये जबकि अन्य दो वाहन किसी तरह भागने में सफल हो गये.पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से 46 नग साल प्रजाति के इमारती लकड़ी बरामद किया गया है.आरोपी सुरेश बघेल और सुखदास नामक तस्करों ने जमावड़ा के एक कांग्रेसी नेता से संपर्क साधा और उन्हें मामले से बरी कराने में मदद मांगी,

तस्करों ने उगला नाम
तस्करों ने बताया की जमावड़ा के रहने वाले कांग्रेसी नेता उन्हें स्वतंत्र रूप से इलाके में लकड़ी तस्करी की इजाजत दी है और कोई भी मामले से बचाने का आश्वासन दिया है इसीलिए वे बेखौफ लकड़ी की तस्करी कर रहे हैं.फिलहाल दोनों आरोपियों के खिलाफ वन अधिनियम के तहत कार्यवाही की जा रही है तथा वाहन को राजसात करने की सिफारिश कर दी गई है.