भारत में कोरोना के 1.03 लाख नए मामले, एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा

देश में कोरोना के मामले बढ़कर 1,25,89,067 , मौतें 1,65,101

नई दिल्ली | भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1,03,558 नए मामले सामने आए, जो पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद से एक दिन का   अब तक का सबसे बड़ा मामला है। इन आंकड़ों के साथ कोरोना के मामले बढ़कर 1,25,89,067 हो गए हैं।

भारत में इससे पहले सबसे अधिक एक दिन का  मामला  16 सितंबर, 2020 को 97,894 पाए गए थे। पिछले साल जनवरी में देश में पहला मामला सामने आया था।

महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, चंडीगढ़, गुजरात, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्ली और हरियाणा को ‘गंभीर चिंता’ वाला राज्य माना जा रहा है।

वर्तमान में सक्रिय मामले बढ़कर 7,41,830 हो गए हैं, जो कुल मामलों का 5.89 प्रतिशत है, जबकि रिकवरी दर घटकर 92.80 प्रतिशत हो गई है।

इस महामारी से बीते एक दिन का मौत का आंकड़ा   478  है। जिससे इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,65,101 हो गई।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, इस महामारी से उबरने वालों की संख्या बढ़कर 1,16,82,136 हो गई है।

कोरोना मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की और निर्देश दिया कि मामलों में बढ़ोतरी वाले राज्यों ‘मिशन-मोड’ अप्रोच अपनाया जाए।

वहीं 16 जनवरी India reports highest-ever tally of 1.03 lakh Covid casesको वैक्सीन ड्राइव शुरू होने के बाद से देश में अब तक 7.91 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है।

–आईएएनएस

संबंधित पोस्ट

भारत में छह माह के अंदर कोरोना की तीसरी लहर संभव : वैज्ञानिक राम उपध्याय  

क्या भारत, नाइजीरिया की तरह ट्विटर को ब्लॉक या सस्पेंड कर सकता है?

चैपल के मुताबिक भारत के अश्विन, ऑस्ट्रेलिया के लियोन से बेहतर

भारत की पुरुष और महिला क्रिकेट टीम इंग्लैंड के लिए रवाना

वैश्विक कोविड टीकों के लिए भारत में किसी क्लिनिकल परीक्षण की जरूरत नहीं

RBI:भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 2.8 अरब डॉलर का इजाफा

भारत में 14 अप्रैल के बाद अब तक के सबसे कम 1.86 लाख केस दर्ज

भारत में बच्चों पर जल्द शुरू होगा कोविड वैक्सीन ट्रायल : केंद्र

14 अप्रैल के बाद भारत में सबसे कम 1.96 लाख कोविड मामले, 24 घंटे में 3,511 मौत

भारत में 26 मई को दिखेगा आंशिक चंद्र ग्रहण

डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत के लिए ‘एक्स-फैक्टर’ साबित हो सकते हैं जडेजा

डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत के तेज गेंदबाजों का पलड़ा भारी होगा : नेहरा