Video:राजधानी रायपुर में फिर शुरू हुआ 10 दिन का टोटल लॉकडाउन

शहर के सभी चौक-चौराहों पर पुलिस ने बनाया चेकिंग पॉइंट

रायपुर | रायपुर में शुक्रवार शाम 6 बजे से टोटल लॉकडाउन का आदेश पारित हो गया है। सभी चौक-चौराहों पर स्थापित किए गए चेकिंग पॉइंट पर पुलिस मुस्तैद खड़े दिखाई दिए। शुक्रवार यानी 9 अप्रेल शाम के बाद वही हालात शनिवार सुबह से ही दिखाई देने लगा। सुबह सवेरे केवल दूध लेने के लिए ही लोग बाहर निकले थे। इसके अलावा बेवजह किसी को भी निकलना वर्जित था। यही कारण है की टोटल लॉकडाउन के कारण शहर की सभी सड़कें सुनसान और वीरान थी। शहर की सड़कों पर इक्के दुक्के वाहन ही दौड़ते भागते नजर आए। 

सड़कों पर सन्नाटा 

राजधानी का शंकर नगर चौक जो सबसे व्यस्ततम चौक माना जाता है, वह पूरी तरह से सुनी दिखाई दी। चौक पर जिला प्रशासन ने पहले से ही बैरिकेडिंग कर रखा है। लगभग शहर की सभी छुअक में कुछ दुरी तक वन वे भी कर दिया गया है ताकि कोई भी गाड़ी बिना जांच करवाएं सरपट ना दौड़ पाए। चौक में मुस्तैद पुलिस जवान की नजर आते जाते सभी गाड़ियों पर बाकायदा है। पुलिस के जवान दुपहिया और चार पहिया वाहनों को रोककर पूछताछ करने के बाद ही उसे आगे की ओर रवाना कर रहे हैं। पूछ पूछताछ में यदि कोई संशय नजर आ रहा है तो उसे समझाइश देकर वापस घर लौटने की हिदायत भी दी जा रही है। आज पहला दिन है इसलिए समझाइश देकर छोड़ जा रहा है अन्यथा कल से प्रशासन और भी सख्ती बरतेगा।

महामारी नियंत्रण अधिनियम लागू 

गौरतलब है कि जिला प्रशासन ने 9 अप्रैल शाम 6 से 19 अप्रैल सुबह 6 बजे तक सख्त लॉकडाउन का आदेश जारी करते हुए पुरे शहर को कंनटेमेंट जोन घोषित किया है। जिसके अंतर्गत केवल दवाई दुकान और सफाई कर्मियों को थोड़ी बहुत छूट दी गई है। वहीं दूध की बिक्री करने वालों कि यह भी प्रशासन ने समय निर्धारित कर दिया है। सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों को भी बंद करवा दिया गया है। बाजार व मार्केट, समस्त प्रकार के देशी, विदेशी मदिरा दुकान, सिनेमा, मल्टीप्लेक्स सभी को बंद कर दिया गया है। आदेशों का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठान भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा सहपठित आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 एवं महामारी नियंत्रण अधिनियम 1897 की धारा 3 के तहत दण्डनीय होंगे। यही कारण है की राजधानी की पूरी सड़कें एक छोर से दूसरे छोर तक शांत पड़ी दिखाई दे रही है। साथ ही घर में सुरक्षित रहने और बाहर निकलने पर मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने की अपील भी चौक चौराहों पर लगे लाउडस्पीकर से लगातार किया जा रहा है ताकि लोगों में कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूकता बढ़े और लोग खुद को इस संक्रमण से बचा पाए। यानी दो गज दुरी सबसे जरुरी।

संबंधित पोस्ट

31 मई तक बढ़ा लॉकडाउन,तीन जिलों को मिला विशेष निर्देशों के साथ राहत

लॉकडाउन नहीं होगा ख़त्म,संक्रमण 5 फीसदी से निचे आने पर ही अनलॉक होगा प्रदेश

मुख्यमंत्री ने किया आंशिक लॉकडाउन की ओर इशारा, दुकानों के संचालन में मिलेगी छूट

छत्तीसगढ़ में समन्वय ने तोड़ी कोरोना संक्रमण की चेन,भोर होने ज्यादा समय नहीं

LOCKDOWN:सम्पूर्ण रायपुर जिला 6 मई तक के लिए कंटेनमेंट जोन घोषित

लॉकडाउन के बाद भी संक्रमण के खतरे से बाहर नहीं हुआ रायपुर

Lock Down:दुर्ग में लॉकडाउन के विरोध का दिखा अजब गजब अनोखा तरीका

Video:रायपुर 10 दिनों के लिए लॉकडाउन 9 अप्रैल से

Video:छत्तीसगढ़ में फिलहाल लाॅकडाउन नहीं,रात 9 के बाद शहरों में “नो मैन्स लैंड” होगा लागू

भोपाल, इंदौर व जबलपुर में लॉकडाउन , सड़कों पर सन्नाटा

कम्पलीट लाॅकडाउन के साये में रायपुर जिला,राजधानी की सड़के हुई विरान

राजधानी होगा 7दिन के लिए टोटल लॉकडाउन,अतिआवश्यक सेवाओं को छोड़ शहर सील