राजनांदगांव के बाद अब सूरजपुर के स्कूल में कोरोना ने दी दस्तक

सभी छात्रों को किया गया है क्वारेंटाइन

सूरजपुर। छत्तीसगढ़ में स्कूल खुले महज कुछ ही दिन हुए लेकिन अब कोरोना के प्रकोप से स्कूली बच्चे परेशान हैं। राजनांदगांव जिले के बाद अब सूरजपुर जिले में भी बच्चे कोरोना पॉजिटिव मिले हैं जिससे स्कूल शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। जानकारी के मुताबिक सूरजपुर जिले के प्रतापपुर ब्लॉक के पंछीडांड के शासकीय स्कूल में 10वीं के 2 छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। 

सर्दी की शिकायत और अचानक बुखार आने के बाद इनकी तबीयत बिगड़ने लगी थी। जिसके बाद के बाद इन छात्रों की कोविड-19 जांच कराई गई थी। 9वीं और 10वीं कक्षा के छात्रों का कोरोना टेस्ट कराया गया, जिनमें से 10वीं कक्षा का एक छात्र और एक छात्रा की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बच्चों के संक्रमित पाए जाने के बाद आनन-फानन में सभी छात्रों को होम आइसोलेशन पर रखा गया है।  साथ ही स्कूल को 14 दिनों के लिए बंद भी कर दिया गया है। 

शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पंछीडांड के प्राचार्य नसीम अंसारी ने बताया कि 9वीं और 10वीं क्लास के छात्रों का आज स्कूल में कोरोना टेस्ट कराया गया था. जिसमें दो छात्रों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। एहतियात के तौर पर सभी छात्रों को होम आइसोलेशन में रहने के निर्देश दिए गए हैं।  अब पढ़ाई ऑनलाइन के माध्यम से होगी। 

इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी विनोद राय ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम आज स्कूल जांच करने पहुंची थी, जहां दो छात्र संक्रमित मिले हैं।  प्राचार्य ने इसकी जानकारी दी है। एहतियात के तौर पर स्कूल को बंद करने कहा गया है. सभी छात्रों को होम आइसोलेट रहने के निर्देश दिए गए हैं। 

बता दें कि राजनांदगांव जिले के युगांतर पब्लिक स्कूल कैंपस से 24 स्टॉफ और उनके परिजन कोरोना संक्रमित मिल चुके है।  जिन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है।  फिलहाल स्कूल को भी बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं।  गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में 11 महीने बाद प्रदेश सरकार ने 15 फरवरी से 9वीं से 12वीं तक कक्षा वाली स्कूलों को खोलने का निर्देश दिया था।  स्कूलों के लिए कोरोना गाइडलाइन का पालन अनिवार्य किया गया है।