चीन : कोरोना से लड़ाई में 6 लाख चिकित्सकों ने दिया योगदान

9 नए मरीजों को अस्पताल से छुट्टी

बीजिंग। कोविड-19 महामारी की रोकथाम में चीनी चिकित्सकों ने साहस के साथ वायरस के साथ लड़ाई की और पूरी कोशिश से मरीजों का इलाज किया। उन्होंने अकल्पनीय शारीरिक और मनोवैज्ञानिक दबाव का सामना किया। 84 वर्षीय चिकित्सा विशेषज्ञ से 20 वर्षीय युवा चिकित्सक तक महामारी के सामने पीछे की ओर मुड़े बिना अपना कर्तव्य पूरा करने के लिए आगे बढ़े।

करीब 6 लाख चिकित्सकों ने महामारी के खिलाफ लड़ाई के सबसे आगे वाले मोर्चे पर काम किया।

चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के उच्च स्तरीय विशेषज्ञ दल के नेता, राष्ट्रीय श्वसन रोग नैदानिक चिकित्सा अनुसंधान केंद्र के प्रमुख 84 वर्षीय चोंग नानशान महामारी की रोकथाम में आगे बढ़े।

उन्होंने वायरस पर अध्ययन किया, मरीजों का इलाज किया और ऑनलाइन पर अन्य चिकित्सकों के साथ विचार-विमर्श किया।

चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के चिकित्सा दल के सदस्य, और नानचिंग शहर के तोंगनान विश्वविद्लाय के अधीनस्थ चोंगता अस्पताल के उप प्रमुख 54 वर्षीय छ्यू हाईपो चीन में पहले ऐसे शख्स हैं, जो इन्टेन्सिव केयर मेडिसन में पीएचडी की हैं। वे 19 जनवरी को वुहान में महामारी की रोकथाम में संलग्न रहने के 139 दिन बाद 5 जून को घर वापस लौटे।

छ्यू हाईपो उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। तस्वीरों में देखा गया है कि एक महीने बाद उनके बाल काफी सफेद हो गए हैं।

उन्होंने बताया कि फोटो खींचते समय ज्यादा रोशनी थी, जिसके चलते देखने में बाल सफेद लग रहे हैं। लेकिन हम चित्र में देख सकते हैं कि वे सचमुच दुबले हो गए हैं। इसे देखकर तमाम लोगों का मन दु:खी हुआ।

छ्यू हाईपो कहा कि हालांकि महामारी की रोकथाम कठिन है, लेकिन हमने अंतत: विजय पाई।

दूसरी तरफ चीन में कोरोनावायरस महामारी से संक्रमित हुए 9 मरीजों को उपचार के बाद पूर्ण रूप से स्वस्थ होने पर सोमवार को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

नेशनल हेल्थ कमीशन ने कहा, “मेनलैंड चाइना में कोविड-19 संक्रमण से ग्रस्त रहे 9 लोगों को स्वस्थ होने के बाद सोमवार को डिस्चार्ज कर दिया गया।”

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने कमीशन के हवाले से कहा कि वर्तमान में 65 मरीज उपचाराधीन हैं।

रिपोर्ट में कहा गया कि उपचार के बाद पूर्ण रूप से अब तक 78 हजार 341 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जिसके बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

देश में कुल 83 हजार 40 मामले रविवार तक सामने आए हैं, जिनमें से 4 हजार 634 लोगों की मौत हो गई है।

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )

संबंधित पोस्ट

चीन ने मुझे बलूच आंदोलन को कुचलने के लिए तैनात किया है : पाक जनरल

चीन ने रमजान के दौरान उइगर मुसलमानों को नहीं दी रोजा रखने की अनुमति

चीन ने भारतीय सेना को सौंपे अरुणाचल से लापता पांचों युवाओं को

चीन ने एलएसी के करीब बैरक, 5जी संरचना का निर्माण शुरू किया

चीन ने पाक को अफगानिस्तान से लगी 5 प्रमुख सीमाएं खोलने को कहा

Corona Update : दुनियाभर में संक्रमण संख्या 76 लाख से अधिक

चीन : कोरोना की रोकथाम जुटे रहने के 139 दिन बाद घर लोटे चिकित्सा विशेषज्ञ

भारत ने चीन से पैंगोंग झील से अपने सैनिक व संरचनाएं हटाने को कहा

मजबूत सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली के निर्माण की जरूरत : शी चिनफिंग

चीन में 90 लाख लोगों को रोजगार देने का लक्ष्य – यांग वेई मीन

हांगकांग पर चर्चा को तैयार अमेरिका, चीन ने भारत को दिए सुलह के संदेश

एनपीसी वार्षिक सम्मेलन में आर्थिक-सामाजिक कार्य की प्रधानता जाहिर