कोरोना सैंपल के एवज में संक्रमण का ग्राफ हुआ कम,डिस्चार्ज संख्या भी बढ़ी

लोगों की नजर लॉकडाउन खुलने पर टिकी

रायपुर | छत्तीसगढ़ में कोरोना की रफ्तार में उतार-चढ़ाव लगातार दिखाई दे रहा है। रविवार को जहां कोरोना सैंपल 42032 काफी कम लिए गए,लेकिन संक्रमण का दर 28.13 रहा। वहीं सोमवार को कोरोना सैंपल की संख्या में बढ़ोतरी हुई। 58493 लोगों ने अपना सैंपल दिया,जिसमें 26.11 फीसदी संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। यदि इन दो दिनों की बात की जाए तो प्रदेश में अब संक्रमण की स्थिति पहले से बेहतर दिखाई दे रही है। लेकिन अभी भी आम जनता को काफी सतर्क रहना होगा ताकि संक्रमण की रफ्तार तेज ना हो।

गौरतलब है कि बीते 24 घंटे में प्रदेशभर में 58493 सैंपल टेस्ट के बिना पर 15274 नए केस सामने आए हैं। वही 14376 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज भी हुए हैं। लेकिन 1 दिन में 266 मौत होने से स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की चिंताएं बढ़ गई हैं। स्वास्थ्य अमले का मानना है कि जिस तरह से संक्रमण का ग्राफ कम हुआ है, उससे ज्यादा संक्रमित मरीजों की मौत की रफ्तार कम होना जरूरी है। तभी जाकर कोरोना का चेन टूटता हुआ नजर आएगा।

जिलेवार आंकड़ों की स्थिति में बीते 24 घंटे में बिलासपुर संभाग में सबसे ज्यादा संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है प्रदेश भर में जांजगीर जिला सबसे टॉप में रहा यहां से 1251 नए मरीज मिले हैं इसके बाद कोरबा में 1223 रायगढ़ में 1182 रायपुर 1102 बिलासपुर 1014 दुर्ग 931 सहित अन्य जिलों में भी संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है।

रायपुर जिला जहां संक्रमण के ग्राफ में चौथे स्थान पर पहुंच गया है लेकिन संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़े सबसे ज्यादा रायपुर जिले से मिले हैं रायपुर में 63 संक्रमित मरीजों की मौत हुई है दुर्ग में 33 रायगढ़ में 20 जांजगीर-चांपा में 19 कोरबा में 15 बिलासपुर में 15 राजनांदगांव में 11 बालोद में 11 और इस तरह प्रदेश भर में कुल 266 मरीजों ने दम तोड़ा है।

स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में 771701 कुल पॉजिटिव प्रकरण की संख्या हो गई है। वही होम आइसोलेशन और अस्पताल से 641449 लोग डिस्चार्ज होकर घर लौटे हैं। इधर कुल मौत का आंकड़ा 9275 हो चुका है। इस तरह वर्तमान में प्रदेश भर में 120977 मरीज एक्टिव है।

लॉकडाउन खुलेगा या बढ़ेगा

छत्तीसगढ़ के तमाम जिलों में लगाए गए लॉकडाउन का खासा असर संक्रमण की रफ्तार में कमी को देखकर लगता है । रायपुर में 9 अप्रैल से लागू लॉक डाउन को तीन बार विस्तार करते हुए जिला प्रशासन ने 5 मई तक बढ़ाया है। लॉकडाउन लगाए जाने से जहां आम लोगों को कुछ दिक्कतें आ रही हैं तो वही जिला प्रशासन ने कुछ राहत भी दी है। लेकिन अब आम जनता की नजर जिला प्रशासन पर टिकी हुई है कि आगामी 6 मई से रायपुर जिले में लॉकडाउन खुलेगा या नहीं। हालांकि कुछ जनप्रतिनिधियों ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाते हुए 15 मई तक जारी रखने आग्रह किया है।

जबकि रायपुर में संक्रमण की रफ्तार तो कम हुई है, यही कारण है कि जिले वासियों की नजर अब प्रशासन के निर्णय पर टिकी हुई है। लेकिन यदि लॉकडाउन खुलता है तो आम जनता की लापरवाही पर नकेल कसने जिला प्रशासन क्या रणनीति बनाती है यह देखने वाली बात होगी।

 

संबंधित पोस्ट

छत्तीसगढ़ में रिकवरी दर संक्रमण से ज्यादा,वैक्सीनेशन का है असर

छत्तीसगढ़ में कोरोना पॉजिटिविटी दर 18.31 फीसदी पहुंचा,मौत का आंकड़ा भी कम

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की स्पीड में आई कमी, मिले 12 हजार

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण हुआ कम, 22.57 फीसदी है संक्रमण दर

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण का दर हुआ 25.3 फीसदी,रफ्तार में आई कमी

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण का सिलसिला बरकरार,वर्चुअल ओपीडी शुरू

छत्तीसगढ़ में समन्वय ने तोड़ी कोरोना संक्रमण की चेन,भोर होने ज्यादा समय नहीं

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण रफ्तार कम, रिकवरी रेट में इजाफा

लॉकडाउन और वैक्सीनेशन का असर, नए कोरोना संक्रमित मरीज हुए कम

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण में मिली थोड़ी राहत,प्रदेश में रिकवरी दर बढ़ा

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण में उतार चढ़ाव जारी,मौत के आंकड़े हुए कम

कोरोना की रफ़्तार में आई थोड़ी कमी,मौत के आंकड़े ने चौंकाया