लॉकडाउन नहीं होगा ख़त्म,संक्रमण 5 फीसदी से निचे आने पर ही अनलॉक होगा प्रदेश

जिला प्रशासन देगा आम लोगों को विशेष छूट

रायपुर। छत्तीसगढ़ में भले ही कोरोना संक्रमण का ग्राफ 14 प्रतिशत आ गया हो।  लेकिन अभी भी सरकार टोटल लॉकडाउन को खोलने के फ़िराक में नहीं है। बुधवार को ही प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने 5 फीसदी से निचे संक्रमण ग्राफ आने पर ही प्रदेश को अनलॉक करने की मंशा जाहिर की थी।  

आज प्रदेश के वरिष्ठ मंत्री और सरकार के प्रवक्ता रविंद्र चौबे ने भी 16 मई से लॉकडाउन खोलने पर अपना बयान दिया है। चौबे की माने तो प्रदेश में संक्रमण तो काफी कम हुआ है। लेकिन गाइड लाइन के अनुसार नहीं।  

उन्होंने कहा कि अभी प्रदेश को टोटल अनलॉक नहीं किया जाएगा। बल्कि रियायतें जरूर बढ़ाई जा सकती हैं। इस संबंध में जिला कलेक्टर  संगठनों से चर्चा शुक्रवार को करेंगे। जिसके बाद ही किसी प्रकार का फैसला कलेक्टर लेंगे। लेकिन अभी पूरी तरह से प्रदेश में लॉकडाउन को खत्म नहीं किया जाएगा। 

मंत्री चौबे ने सभी व्यापारिक संगठनों के द्वारा लॉक डाउन को खोलने से मना करने की जानकारी भी दी। उन्होंने कहा कि भरसक रियायत तो दी जाएगी मगर सख्त लॉक डाउन का प्रोटोकॉल लागू रहेगा।   

राजधानी में लगभग सभी ट्रेड खोलने की सहमति लगभग है। साथ ही दुकान या प्रतिष्ठान खोलने के लिए समय-सीमा सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक रखने पर जोर दिया जा रहा है। जिससे बाजार में आम लोगों की भीड़ न बढ़े। हो सकता है कि बाजार में दोनों दिशाओं की दुकाने अलग अलग दिन में खुले। साथ ही रविवार को टोटल लॉकडाउन को यथावत रखा जाना तय है। ये सारे नियम 16 मई से लागू हो जायेंगे। साथ ही सभी बाजारों में कोविड-19 के दिशा-निर्देशों को पालन करना भी अनिवार्य होगा,अन्यथा धनद का प्रावधान भी किया जा रहा है। 

मंत्री रविंद्र चौबे ने चर्चा के दौरान केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा। उनकी माने तो केंद्र सरकार द्वारा कोरोना प्रोटोकॉल का गाइडलाइन बीते समय में जारी किया जाता था। लेकिन दूसरे लहर से कोई भी प्रोटोकोल केंद्र सरकार जारी नहीं कर रही है। केंद्र के प्रोटोकॉल जारी नहीं करने पर प्रदेश के मंत्री रविंद्र चौबे का साफ तौर पर कहना है कि केंद्र सरकार पूरी तरह से आत्मसमर्पण की मुद्रा में है। राज्य सरकार को किसी भी प्रकार के निर्देश जारी करने में केंद्र सरकार असमर्थ है। ऐसे में साफ दिखाई दे रहा है कि केंद्र सरकार कोरोना संक्रमण को रोक पाने में पूरी तरह से विफल है। इसलिए अब केंद्र सरकार पूरी तरह से राज्य सरकारों पर पर निर्भर हो चुकी है। मंत्री चौबे ने कहा कि कोरोना संकटकाल में ही छत्तीसगढ़ सबसे पहले लॉक डाउन की शुरुआत की जो अब तक जारी है। यही कारण है कि छत्तीसगढ़ में संक्रमण कम दिखाई दे रहा है। 

सुने छत्तीसगढ़ अनलॉक पर मंत्री रविंद्र चौबे का बयान-

 

संबंधित पोस्ट

लॉकडाउन में फर्जी अधिकारी बन उगाही करना पड़ा महंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

रायपुर अनलॉक की ओर बढ़ा,शाम 6 बजे तक बाजार संचालन की अनुमति

लॉकडाउन में छूट का मिला लाभ,CM भूपेश ने लोगों से सावधानी रखने की अपील

31 मई तक बढ़ा लॉकडाउन,तीन जिलों को मिला विशेष निर्देशों के साथ राहत

मुख्यमंत्री ने किया आंशिक लॉकडाउन की ओर इशारा, दुकानों के संचालन में मिलेगी छूट

छत्तीसगढ़ में समन्वय ने तोड़ी कोरोना संक्रमण की चेन,भोर होने ज्यादा समय नहीं

Video:रायपुर में बढ़ाया गया 5 मई तक लॉकडाउन,मंत्री रविंद्र चौबे ने किया ऐलान

राजधानी रायपुर में बढ़ी लॉकडाउन की अवधि,26 अप्रैल तक रहेगा लॉक

लॉकडाउन के बाद भी संक्रमण के खतरे से बाहर नहीं हुआ रायपुर

Video:राजधानी रायपुर में फिर शुरू हुआ 10 दिन का टोटल लॉकडाउन

Lock Down:दुर्ग में लॉकडाउन के विरोध का दिखा अजब गजब अनोखा तरीका

Video:रायपुर 10 दिनों के लिए लॉकडाउन 9 अप्रैल से