वैश्विक कोविड टीकों के लिए भारत में किसी क्लिनिकल परीक्षण की जरूरत नहीं

इसके लिए जरूरी है कि वैक्सीन बैच को मूल देश की राष्ट्रीय नियंत्रण प्रयोगशाला द्वारा प्रमाणित और जारी किया गया हो।

No clinical trials required in India for global Covid-19 vaccines
वैश्विक स्तर पर उपलब्ध कोविड-19 टीके अब भारत में बिना मंजूरी के क्लिनिकल परीक्षण और टीके की हर खेप बिना परीक्षण के लॉन्च की जा सकती है।

नई दिल्ली|वैश्विक कोविड टीकों के लिए अब भारत में बिना मंजूरी के क्लिनिकल परीक्षण और टीके की हर खेप बिना परीक्षण के लॉन्च की जा सकती है।

इसके लिए जरूरी है कि वैक्सीन बैच को मूल देश की राष्ट्रीय नियंत्रण प्रयोगशाला द्वारा प्रमाणित और जारी किया गया हो।

वैश्विक कोविड टीकों के संबंध में भारत के औषधि महानियंत्रक ने एक अधिसूचना में कहा है कि जिन टीकों को यूएस एफडीए, ईएमए, यूके एमएचआरए और पीएमडीए जापान द्वारा प्रतिबंधित उपयोग के लिए अनुमोदित किया गया है और डब्ल्यूएचओ आपातकालीन उपयोग सूची (ईयूएल) के तहत और जहां लाखों व्यक्तियों को टीका लगाया गया है, उसे परीक्षण की आवश्यकता को छूट दी जा सकती है। इसके लिए जरूरी है कि वैक्सीन बैच को मूल देश की राष्ट्रीय नियंत्रण प्रयोगशाला द्वारा प्रमाणित और जारी किया गया हो।

हालांकि, मानक प्रक्रियाओं के अनुसार बैच रिलीज के लिए सीडीएल, कसौली द्वारा उनके सारांश लॉट प्रोटोकॉल और बैच के विश्लेषण के प्रमाण पत्र की जांच और समीक्षा की जाएगी और सुरक्षा परिणामों के लिए पहले 7 दिनों के लिए पहले 100 लाभार्थियों के मूल्यांकन की आवश्यकता होगी। आगे टीकाकरण कार्यक्रम के लिए शुरू किया गया टीका और अनुप्रयोगों के लिए अन्य प्रक्रियाएं समान रहेंगी।

यह मंजूरी पहले फाइजर और मॉर्डना के टीकों पर लागू होने की संभावना है। एस्ट्राजेनेका के कोविशील्ड और रूस के स्पुतनिक को पहले ही मंजूरी मिल चुकी है। यह स्पष्ट नहीं है कि चीनी टीके इस दायरे में आएंगे या वे भारत में लागू होंगे।

वैश्विक कोविड टीकों की मंजूरी राष्ट्रीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए बाहरी टीकों की बढ़ी हुई उपलब्धता को बढ़ाने के लिए किया जा रहा है, भले ही घरेलू विनिर्माण को हटाया जा रहा हो।

–आईएएनएस

संबंधित पोस्ट

भारत में छह माह के अंदर कोरोना की तीसरी लहर संभव : वैज्ञानिक राम उपध्याय  

क्या भारत, नाइजीरिया की तरह ट्विटर को ब्लॉक या सस्पेंड कर सकता है?

चैपल के मुताबिक भारत के अश्विन, ऑस्ट्रेलिया के लियोन से बेहतर

भारत की पुरुष और महिला क्रिकेट टीम इंग्लैंड के लिए रवाना

RBI:भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 2.8 अरब डॉलर का इजाफा

भारत में 14 अप्रैल के बाद अब तक के सबसे कम 1.86 लाख केस दर्ज

भारत में बच्चों पर जल्द शुरू होगा कोविड वैक्सीन ट्रायल : केंद्र

14 अप्रैल के बाद भारत में सबसे कम 1.96 लाख कोविड मामले, 24 घंटे में 3,511 मौत

भारत में 26 मई को दिखेगा आंशिक चंद्र ग्रहण

डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत के लिए ‘एक्स-फैक्टर’ साबित हो सकते हैं जडेजा

डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत के तेज गेंदबाजों का पलड़ा भारी होगा : नेहरा

भारत में 24 घंटे में रिकॉर्ड 20.66 लाख कोविड टेस्ट