छत्तीसगढ़ में पाॅजिटिविटी दर पहुंचा 3.8 प्रतिशत,सैंपलों की जांच में भी आई कमी

प्रदेश में मिले 1655 कोरोना संक्रमित

रायपुर | प्रदेश में पाॅजिटिविटी दर लगातार घट रही है। आज प्रदेश में पाॅजिटिविटी दर 3.8 प्रतिशत है। आज प्रदेश भर में हुए 43 हजार 240 सैंपलों की हुई। जिसमे से 1655 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। हलाकि सैंपल जाँच में काफी गिरावट एक दिन में नजर आ रहा है। जबकि शासन का लक्ष्य रोजाना 60 हजार से ज्यादा टेस्ट करना है। 

प्रदेश में 4521 मरीज आज स्वस्थ्य हुए हैं। आंकड़ों ने साबित कर दिया कि प्रदेश का रिकवरी दर उल्लेखनीय है। स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना से 37 लोगों की मौत की भी पुष्टि की है। जिसमे कोविड-19 से15 और को-माॅर्बिडिटी के साथ 22 की मृत्यु हुई है। 

जिलेवार स्थिति में अभी भी सूरजपुर में स्थिति सही नहीं है। आज सबसे ज्यादा यहीं से 171 नये मरीज मिले हैं। वहीँ सरगुजा में 151, रायगढ़ में 131, जांजगीर में 100, रायपुर में 61 मरीज मिले हैं। कोरोना से मौत पर नजर डाली जाये तो जांजगीर में सबसे अधिक 8 लोगों की कोरोना से जान गई है। जबकि रायगढ़ में 6, रायपुर में 4, बलौदाबाजार में 3 लोगों की मौत हुई है। 

प्रदेश अब कुल प्रकरण की संख्या 9 लाख 69 हजार 300 पर रुकी है। इधर कुल डिस्चार्ज मरीजों की संख्या 9 लाख 17 हजार 023 है। प्रदेश में अब तक हुई मौत का आंकड़ा 13 हजार 016 दिखाई दे रहा है। इस स्थिति में प्रदेशभर में एक्टिव मरीज 39 हजार 261 है। 

संबंधित पोस्ट

छत्तीसगढ़ में 54 हजार 144 सैम्पलों की हुई जांच,पाॅजिटिविटी दर 2.9 प्रतिशत

छत्तीसगढ़ में पाॅजिटिविटी 3.1 फीसदी के साथ 1886 मिले नए मरीज

प्रदेश की औसत पाॅजिटिविटी दर 3.7 प्रतिशत,रिकवरी में हुई वृद्धि

छत्तीसगढ़ में संक्रमण की रफ्तार को रोकने में दवा किट बनी मददगार

Covid-19:छत्तीसगढ़ में कोरोना का चेन टूटा और रिकवरी दर बढ़ी

छत्तीसगढ़ की औसत पाॅजिटिविटी दर 4.8 प्रतिशत,मॉर्टिलिटी में गिरावट

पाॅजिटिविटी और मॉर्टिलिटी की दरों में आई कमी,रिकवरी ग्राफ हुआ तेज

छत्तीसगढ़ में 8 प्रतिशत पर कोरोना पाॅजिटिविटी दर,मौत की रफ़्तार बरकरार

छतीसगढ़ में कोरोना पाॅजिटिविटी दर में आई उल्लेखनीय गिरावट

कोरोना कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की सुचारू व्यवस्था ने तोडा संक्रमण का चेन

छत्तीसगढ़ में कोरोना पाॅजिटिविटी दर 13 प्रतिशत पर पहुंची,रिकवरी भी तेज

छत्तीसगढ़ में रिकवरी दर संक्रमण से ज्यादा,वैक्सीनेशन का है असर