राजधानी होगा 7दिन के लिए टोटल लॉकडाउन,अतिआवश्यक सेवाओं को छोड़ शहर सील

कलेक्टर और एसएसपी ने लिए बैठक में निर्णय

रायपुर। राजधानी में फिर 21 सितंबर से 28 सितंबर तक लॉकडाउन का आदेश दे दिया गया है। कलेक्टर और एसएसपी ने उच्च स्तरीय बैठक में ये निर्णय लिया है। बैठक में अन्य विभागीय अधिकारियों के बीच आम सहमति बनने के बाद ये बड़ा कदम प्रशासन ने उठाया है। ये भी माना जा रहा है की पिछली बार की तरह इस बार भी सात दिन के लॉक डाउन को और भी आगे बाध्याय जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि राजधानी में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए एक सप्ताह का कम्प्लीट लॉक डाउन करने के लिए प्रशासन ने कड़ा कदम उठाया है। इस बार 21 सितंबर की रात 9 बजे से 28 सितंबर तक लॉकडाउन लगाया जाएगा। रायपुर जिले में बीते सप्ताह भर में करीब 26 हजार से भी अधिक संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। वहीं अब तक 10627 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं वकसज जिले में अब तक 301 मरीजों की मौत भी संक्रमण से हो चुकी हैं।

आम लोग न घबराएं-कलेक्टर
रायपुर कलेक्टर डॉ एस.भारतीदासन ने बैठक के बाद मीडिया से चर्चा के दौरान बताया कि इस बार के लॉकडाउन में पुरे रायपुर को कन्टेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। बंद के दौरान सख्ती बरती जाएगी ताकि लोग की बेवजह आवाजाही रोकी जा सके। रायपुर जिले की सभी सीमाओं को भी एक सप्ताह के लॉक डाउन के दौरान सील कर दिया जायेगा। यदि किसी को बेहद जरुरी काम से शहर से बहार जाना हो तो प्रशासन से अनुमति लेना आवश्यक कर दिया गया है। वहीँ केवल दूध की सप्लाई सुबह और शाम होगी। मेडिकल दुकानें निर्धारित समय तक ही खुली रहेगी। साथ ही आम जनता के लिए पेट्रोल पंप को भी बंद किया जायेगा। केवल पेट्रोल पंप में इमरजेंसी सुविधा व एंबुलेंस को ही पेट्रोल मिल सकेगा। शहर में सब्जी बाजार सहित बाकी सभी तरह के व्यवसाय भी 28 सिरंबर तक पूर्णतया बंद किया गया है साथ ही कलेक्टर ने व्यापारियों द्वारा किसी भी तरह की कालाबाजारी और ओवर रेटिंग नहीं करने की सख्त हिदायत दी है।

कलेक्टर ने आम जनता से अपील की है कि 21 सितंबर शाम से पहले सोशल डिस्टेंसिंग अपनाते हुए एक सप्ताह के लिए घर पर राशन इकट्ठा कर लें। उन्होंने जनता से आग्रह किया है कि किसी तरह घबराने की जरूरत नहीं है।

चेकिंग फिक्स्ड प्वाइंट्स से लैस होगा शहर-एसएसपी
रायपुर एसएसपी अजय यादव ने बताया कि पूरे शहर के साथ ही पूरे जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। कंटेनमेंट जोन में जिस तरह से कड़ाई की जाती है वैसे ही सख्त कड़ाई की जाएगी। रायपुर जिले में 23 फिक्स्ड प्वाइंट्स तय किया गया है। साथ ही शहर के अंदर भी 30 से 40 पॉइंट्स है, जहां पुलिस की पेट्रोलिंग टीम और आवश्यक बल लगाई जाएगी। शहर में पूरी तरह से कोई भी गतिविधियां संचालित नहीं होगी। सभी मार्केट बंद रहेंगे। मेडिकल सेवाएं, पुलिस, निगम और प्रशासन चारों प्रशासनिक लोग उपलब्ध हैं,लोगों को घबराने की बात नहीं है। एसएसपी ने कहा कि कोरोना की टेस्टिंग बढ़ने से ही संक्रमितों के आंकड़े बढे हैं। अब बंद के दौरान इन पर सबसे ज्यादा ध्यान दिया जायेगा।

संबंधित पोस्ट

लॉकडाउन नहीं होगा ख़त्म,संक्रमण 5 फीसदी से निचे आने पर ही अनलॉक होगा प्रदेश

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण का सिलसिला बरकरार,वर्चुअल ओपीडी शुरू

Video:छत्तीसगढ़ में 18+ लोगों को निःशुल्क कोरोना टीका लगाने के महाअभियान शुरु

Video:राजधानी रायपुर में फिर शुरू हुआ 10 दिन का टोटल लॉकडाउन

छत्तीसगढ़ में कोरोना का बढ़ता ग्राफ,रायपुर बनता जा रहा है हॉट स्पॉट

कोरोना से छुटकारा पाने फिर रायपुर में लगेगा लॉकडाउन,22 से 29 तक बंद

शराब दुकानों का बदला समय, टोटल लॉक डाउन में भी छलकेंगे जाम

रायपुर 72 घंटा बन्द:16 अप्रैल शाम 5 बजे से 19 शाम 5 बजे तक

दुधमुँहे बच्चे के साथ पैदल जा रहे थे मुंगेली, रैपिड रिस्पांस टीम ने की मदद

नई दिल्ली लॉकडॉउन : पीएम की अपील के बावजूद बाज नहीं आई जनता

रायपुर के 137 पार्षद उम्मीदवारों ने नहीं दिया ख़र्च का हिसाब

CS मंडल पहुंचे कलेक्टोरेट, सड़क चौड़ी और हाईटेक दफ्तर बनाने दिए निर्देश