प्रदेश की औसत पाॅजिटिविटी दर 3.7 प्रतिशत,रिकवरी में हुई वृद्धि

अनलॉक हुए शहर में लापरवाही न बरतें लोग

रायपुर | छत्तीसगढ़ में 31 मई को पाॅजिटिविटी दर 3.7 प्रतिशत रहा। प्रदेश में 58 हजार 445 सैंपलों की जांच में से 2163 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इस तरह आंकड़ों पर गौर करें तो प्रदेश में पाॅजिटिविटी दर लगातार घट रही है। 

30 मई को प्रदेश की औसत पाॅजिटिविटी दर 3.8 प्रतिशत थी। राज्य के 18 जिलों में पिछले एक सप्ताह में (24 से 30 मई) पाॅजिटिविटी दर घटकर 5 प्रतिशत या इससे कम हो गई है। राष्ट्रीय स्तर पर अभी पाॅजिटिविटी दर 8.1 प्रतिशत है। राज्य शासन द्वारा कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए किए जा रहे प्रभावी उपायों से विभिन्न जिलों में संक्रमण की दर में लगातार गिरावट आ रही है। नारायणपुर, बेमेेतरा, दुर्ग, कबीरधाम, राजनांदगांव व कांकेर जिले में अभी संक्रमण की दर 2 प्रतिशत, कोरबा जिले में 3 प्रतिशत, बिलासपुर, महासमुंद, रायपुर, बलौदाबाजार, सरगुजा, सुकमा, बीजापुर, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले में 4 प्रतिशत, बलरामपुर, दंतेवाड़ा व जशपुर जिले में 5 प्रतिशत है।

सैंपलों की जांच पर जोर 

छत्तीसगढ़ में प्रतिदिन औसतन 62 हजार 987 कोरोना सैंपलों की जांच की जा रही है। प्रदेश में पिछले एक सप्ताह में 4 लाख 40 हजार 910 सैंपलों की जांच हुई है। प्रदेश में प्रति दस लाख की आबादी पर रोजाना सैंपल जांच की संख्या राष्ट्रीय औसत से बहुत अधिक है। यहां प्रति दस लाख की जनसंख्या पर प्रतिदिन 1492 सैंपलों की जांच की जा रही है, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर इसका औसत 1243 है।

स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार छत्तीसगढ़ में बीते 24 घंटों में 2163 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की एवज में 5651 मरीज़ स्वस्थ हो कर घर लौटे हैं। रिकवरी के प्रतिशत में वृद्धि प्रदेश के लिए कोरोना के चेन तोड़ने वाला सूचक माना जा रहा है। वही मॉर्टलिटी दर में भी गिरत देखि जा रही है। कोरोना की वजह से 32 लोगों की मौत हुई है। अब प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 35741 है।

प्रदेशभर में कोरोना का तांडव तो खत्म हुआ,लेकिन अभी भी करीब एक सप्ताह से सूरजपुर में सर्वाधिक मरीज मिलने का दौर जारी है,जो की चिंतनीय है।  सूरजपुर में आज 185 मरीज मिले हैं, जबकि जशपुर में 182, सरगुजा में 147, रायपुर में 136, जांजगीर में 119, रायगढ़ में 160 और बलौदाबाजार में 101 मरीज मिले हैं।

रायपुर में बीते 24 घंटे में मिले संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी को गंभीर माना जा सकता है। क्योंकि रायपुर में लगाए गए लॉक डाउन को लगभग समाप्त कर दिया गया है। ऐसे में संक्रमण बढ़ना लापरवाही को दर्शाता है। 1 जून से अनलॉक हो रहे रायपुर में अब क्लब, होटल और रेस्टोरेंट भी खुल गए हैं। ऐसे में प्रशासन की सख्ती के साथ आम लोगों की समझदारी भी बढ़नी चाहिए,अन्यथा फिर से मई महीने जैसे या उससे बुरे हालत फिर से दिखाई देने लगेंगे। 

संबंधित पोस्ट

छत्तीसगढ़ में 54 हजार 144 सैम्पलों की हुई जांच,पाॅजिटिविटी दर 2.9 प्रतिशत

छत्तीसगढ़ में पाॅजिटिविटी 3.1 फीसदी के साथ 1886 मिले नए मरीज

छत्तीसगढ़ में पाॅजिटिविटी दर पहुंचा 3.8 प्रतिशत,सैंपलों की जांच में भी आई कमी

छत्तीसगढ़ में संक्रमण की रफ्तार को रोकने में दवा किट बनी मददगार

Covid-19:छत्तीसगढ़ में कोरोना का चेन टूटा और रिकवरी दर बढ़ी

छत्तीसगढ़ की औसत पाॅजिटिविटी दर 4.8 प्रतिशत,मॉर्टिलिटी में गिरावट

पाॅजिटिविटी और मॉर्टिलिटी की दरों में आई कमी,रिकवरी ग्राफ हुआ तेज

छत्तीसगढ़ में 8 प्रतिशत पर कोरोना पाॅजिटिविटी दर,मौत की रफ़्तार बरकरार

छत्तीसगढ़ में 69 हजार 873 सैम्पलों की जांच में पाॅजिटिविटी दर 9 प्रतिशत पहुंची

छतीसगढ़ में कोरोना पाॅजिटिविटी दर में आई उल्लेखनीय गिरावट

कोरोना कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की सुचारू व्यवस्था ने तोडा संक्रमण का चेन

छत्तीसगढ़ में कोरोना पाॅजिटिविटी दर 13 प्रतिशत पर पहुंची,रिकवरी भी तेज