हार्ट अटैक से बताई थी मौत, अब हत्या की कहानी, कब्र से निकाली लाश…

रायगढ़ के अंजली स्टील प्लांट में राजकुमार चंद्र की हुई थी मौत

जांजगीर। एक मज़दूर मौत के महीने भर बाद हत्या के संदेह पर पुलिस ने लाश को कब्र से निकाला। घटना जांजगीर जिले की है। मृतक रायगढ़ के एक स्टील प्लांट में काम करता था जहां काम के दौरान उसकी मौत हो गई थी। पहले स्वाभाविक मौत मानकर परिजनो ने कफन-दफन कर दिया था, लेकिन अब मामलें में एक नया मोड़ आया है। जानकारी के मुताबिक़ जांजगीर का निवासी राजकुमार चंद्र रायगढ़ की एक फैक्ट्री में काम करता था। इसी साल 12 सितंबर को राजकुमार की आस्मिक मौत की सुचना परिवार को मिली थी, तब फैक्ट्री प्रबंधन ने उसकी मौत हार्ट अटैक से होना बताया था। साथ ही पीड़ित परिवार को तत्काल आर्थिक सहायता देकर शव का कफ़न दफन कराया गया था।


हाल ही में फैक्ट्री के कुछ मजदूरों ने उसकी मौत को हत्या बताया, जिसके आधार पर परिजनों ने जैजैपुर पुलिस थाना में इसकी लिखित शिकायत दर्ज कराई। मामलें में जांच पड़ताल कर रही पुलिस ने एसडीएम और पुलिस अधिकारियों की मौज़ूदगी के बीच क़ब्र से लाश निकाली गई है। जिसका पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

ये बताई थी मौत की वज़ह
बक़ौल परिजन 12 सितंबर को रायगढ़ के अंजली स्टील प्लांट में काम कर रहे राजकुमार की मौत की खबर उन्हें मिली। राजकुमार की पत्नी और परिजनों को प्लांट प्रबंधन ने बताया कि ड्यूटी के दौरान अचानक राजकुमार के सीने में तेज़ दर्द उठा, और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। प्रबंधन ने हार्ट अटैक की वजह से उसकी मौत बताई। इतना ही नहीं आर्थिक सहायता करते हुए प्रबंधन ने परिजनों को 20 हजार रूपए भी दिए, साथ ही 5 लाख रूपए की सहायता देने की बात कह कर मृतक का अंतिम संस्कार कराया।

अब सामने आई हत्या की खबर
इधर राजकुमार की मौत को तकरीबन महीने भर बीतने वाले थे कि उन्हें राजकुमार की मौत के पीछे हत्या होने की खबर मिली। साथी मज़दूरों ने राजकुमार के परिजनों की सुचना दी कि 12 सितंबर की रात राजकुमार के साथ प्लांट के अंदर कुछ लोगों ने जमकर मारपीट की थी, इसी मारपीट में उसकी जान गई है। जिसके बाद संदेह के आधार पर राजकुमार की पत्नी ने पुलिस में मामला दर्ज़ कराया।