डबल मर्डर : प्यार, शादी, ब्रेकअप के बाद आशिक से हत्यारा बना “सैफ…”

टिकरापारा डबल मर्डर मामलें में एक नाबालिक समेत तीन गिरफ़्तार

रायपुर। राजधानी के टिकरापारा में 10 दिसबंर को दिनदहाड़े हुए दोहरे हत्याकांड का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है। पुलिस ने दो सगी बहनों के हत्याकांड के मामलें में एक नाबालिक समेत तीन आरोपी को गिरफ्तार किया है। दो आरोपी रायगढ़ और अपचारी बालक जांजगीर-चांपा का रहने वाला है।

रायपुर के एसएसपी आरीफ शेख ने मामले का खुलासा करते हुुए बताया कि आरोपियों की खोज मे जुटी पुलिस को सतना मे जाकर सफलता मिली है। आरोपी अपचारी बालक जांजगीगर से पकड़ा गया। वही सतना पुलिस की मदद से मुख्य आरोपी सैफ और गुलाम मुस्तफा पुलिस के हत्थे चढ़े है। पुलिस इन दोनो आरोपियों को लेकर अभी तक रायपुर नही पहुंची है।

एसएसपी शेख ने बताया कि मृतिका मंजु और मनीषा दो सगी बहने थी। मूलत दोनो रायगढ़ की रहने वाली है। रायपुर में मनीषा नैर्सिंग की पढाई करने आई थी और किराए के मकान पर रहती थी। एसएसपी ने बताया कि मनीषा की बहन मंजू की कुछ साल पहले ही रायगढ़ निवासी सैफ खान के साथ दोस्ती हुई और फिर दोनों ने कोर्ट मैरिज भी कर ली थी। सैफ खान और मंजू दोनों एक साथ रायगढ़ में ही लिविंग में रहने लगे। जब इस बात की जानकारी मंजू के परिवार वालों को हुई तो उन्होंने इसके लिये उसे बहुत डांट-फटकार लगायी और सैफ से रिश्ता तोड़ दिया। इस बात से आरोपी सैफ काफी नाराज था और मंजू से बदला लेने के हत्या की घिनौनी प्लानिंग तैयार कर लिया। सैफ पूरी प्लानिंग के साथ 10 दिसबंर को अपने दो और अन्य दोस्तों के साथ रायगढ़ से रायपुर पहुंचा। मृतिका के किराये के मकान पहुंचे उस दौरान मंजू और उसकी बहन मनीषा खाना खा रही थी।

पूर्व प्रेमी को देख मंजू और उसकी बहन मनीषा गुस्से से आग बबूला हो गए और जमकर विवाद होने लगा, इसी दौरान आरोपी ने घर में रखे तवे से मंजू के सर पर जोरदार वार किया। वार इतना भयानक था कि मृतिका की मौके पर ही मौत हो गयी। घटना को देख जब छोटी बहन मनीषा ने चीख-पुकार की तो सैफ और उसके दोस्त ने मृतिका की बहन को भी तवे से मार कर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गये। आरोपी के खेजबीन मे कड़ी मशक्कत पुलिस को करनी पड़ी। घटना के 72 घंटे बाद तीनो आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया।