बस्तर में नक्सलियों का ट्रेनर केरल में गिरफ्तार

बीजापुर का रहने वाला है दीपक उर्फ चंद्रू

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में नक्सलियों को ट्रेनिंग देने वाला एक माओवादी केरल से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार माओवादी की पहचान दीपक उर्फ चंद्रु के रूप में की गई है। इसकी गिरफ्तारी केरल तमिलनाडु बॉर्डर के पास होने की जानकारी है। गिरफ्तार माओवादी डीकेएफजेडसी का सदस्य बताया जा रहा है, जो मूलतः बीजापुर के मनकेली का रहने वाला है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक बस्तर में माओवादी कैंप में चंद्रु बतौर चीफ ट्रेनर काम करता था, जो नए नवेले नक्सलियों को फोर्स और पुलिस से लड़ने, जंगल में रास्ते खोजने और रहने के पैतरे बताता था। तमिलनाडु एसटीएफ की टीम को मनचौकड़ी इलाके में नक्सलियों के जमावड़े की सूचना मिली थी। जिस पर तड़के सुबह टीम सर्चिंग पर निकली और नक्सलियों के कैंप पर धावा बोला। पुलिस की इस कार्यवाही से कई नक्सली कैंप छोड़कर भागने में कामयाब हुए, वहीं एसटीएफ की टीम इन नक्सलियों का पीछा करते हुए दीपक तक पहुंची और उसे गिरफ़्तार करने में सफ़लता हासिल की। इसके पहले भी दीपक मुठभेड़ में घायल होने के बाद भागने में कामयाब हुआ था।

पूछताछ के लिए जाएंगी टीम-पी.सुंदरराज
इधर आईपीएस पी.सुंदरराज ने इस मामले की जानकारी देते हुए बताया कि दीपक की तलाश छत्तीसगढ़ पुलिस को काफी लंबे समय से थी। वही इसके इंटर स्टेट क्वेरी के बाद इसकी जानकारी अन्य राज्यों में भी छत्तीसगढ़ पुलिस ने साझा की थी, लिहाजा इसी जानकारी के आधार पर तमिलनाडु पुलिस ने इसे गिरफ्तार किया है। ट्रेनर दीपक के पकड़े जाने से छत्तीसगढ़ में नक्सलियों की कमर पर गहरा चोट पुलिस मान रही है। साथ ही दीपक से पूछताछ के लिए बस्तर की एक टीम भी तमिलनाडु के लिए रवाना करने की बात उन्होंने कही है।