सरायपाली में बच्चा चोर की अफवाह, पकड़ा गया मानसिक बीमार निकला

महासमुंद में बच्चा चोर की अफ़वाह से फिर मचा हड़कंप

महासमुंद। प्रदेश के महासमुंद जिले के सरायपाली तहसील के ग्रामीण इलाकों में इन दिनों बच्चा चोर की अफवाह है। दो दिन पहले सिंघोड़ा थाने के ग्राम मौलीखार में एक बच्चा चोर पकड़ाने की खबर आई और उनके द्वारा एक 5 वर्ष के बच्चे का अपहरण किए जाने की सूचना को व्हाट्सएप में वायरल कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि पकड़ा गया ग्रामीण मानसिक रूप से बीमार निकला।गलत जानकारी पोस्ट कर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सिंघोड़ा थाना प्रभारी अशोक यादव ने बताया कि उसके पास अपहरण करने के लिए किसी तरह का कोई साधन भी नहीं था और ना ही उसने किसी बच्चे को उठाया था।

वह एक घर से लूंगी और शर्ट को ले रहा था तभी उनके घर से एक 13 वर्षीय बालक चोर-चोर कहकर चिल्लाने लगा और पूरे गांव में बच्चा चोर की अफवाह फैल गई। उस व्यक्ति को ग्रामीणों ने पकड़कर 112 वाहन की मदद से सिंघोड़ा थाना भेज दिया। थाना प्रभारी ने बताया कि इस तरह के भ्रामक अफवाहों से पुलिस कर्मी भी बेवजह परेशान हैं। बिना पुष्टि किए ही सोशलमीडिया में एक ग्रुप से दूसरे ग्रुप में भेज दिया जा रहा है जो गलत है। इस तरह की अफवाह फैलाकर लोगों में डर पैदा करने वाले लोगों के खिलाफ भी पुलिस जल्द ही कार्रवाई करेगी। इसी तरह विगत दिनों बलौदा चौकी अंतर्गत ग्राम नयागांव में सामान बेचने आए दो लोगों को ग्रामीणों ने पुलिस के हवाले कर दिया था। इस तरह की घटना सरायपाली अंचल में एक सप्ताह से देखी जा रही है।