उरला मर्डर : बहन से बात करने पर रोका, कर दी हत्या…

चंद घंटे में उरला मर्डर मिस्ट्री का पुलिस ने किया खुलासा

रायपुर। उरला थाना क्षेत्र में हुई हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली हैं। मृतक का आरोपी की बहन से बातचीत करने पर हुए विवाद और पुरानी रंजिश ने उरला थाना क्षेत्र के निगरानी बदमाश की जान ले ली। पुलिस ने इस मामलें में दीपक जोगी देवार, पुरूषोत्तम देवांगन और युवराज साहू को गिरफ्तार किया है। इसने हत्या के लिए उपयोग किये गए चाक़ू भी बरामद हुए है।
मामलें का खुलासा करते हुए एएसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि थाना उरला क्षेत्रान्तर्गत व्यास तालाब में एक अज्ञात युवक का शव कल देर रत मिला था। जिसकी सुचना पर पतासाजी शुरू की गई। मृतक युवक की पहचान थाना उरला निवासी रूपेन्द्र देवांगन के रूप में हुई है। मृतक रूपेन्द्र देवांगन के गले में किसी धारदार हथियार से किये गये चोट के निशान थे। जाँच पड़ताल के दौरान पुलिस को इस बात की खबर मिली कि मृतक रूपेन्द्र देवांगन का दीपक जोगी देवार निवासी बजरंग नगर के साथ दिनांक 09.12.19 को उसकी बहन के साथ बातचीत को लेकर वाद-विवाद हुआ था। जिसके बाद पुलिस ने दीपक जोगी उर्फ देवार को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ किया गया। पूछताछ में आरोपी ने अपना अपराध काबुल किया और अन्य दो साथियों पुरूषोत्तम देवांगन और युवराज साहू के साथ मिलकर घटना को अंजाम देने की बात कबुली।

विवाद के बाद से मारने का बनाया था प्लान
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि दिनांक 09.12.19 को उसका मृतक रूपेन्द्र देवांगन के साथ उसकी बहन के साथ बातचीत करने को लेकर विवाद हुआ था, जिसके बाद से वह अपने साथियों के साथ मिलकर मृतक रूपेन्द्र देवांगन को मारने की योजना बनाया। घटना दिनांक को सुबह से ही वह अपने साथियों के साथ मिलकर रूपेन्द्र देवांगन का पीछा कर रहे थे एवं मौका मिलते ही व्यास तालाब के पास धारदार हथियार से मृतक के गले में वार कर उसकी हत्या कर शव को तालाब में फेंक दिया। आरोपियों के निशानदेही से उनके कब्जे से घटना में प्रयुक्त किये गये धारदार हथियार जप्त किया गया।