राष्ट्रपति के हाथों दादासाहेब फाल्के पुरस्कार लेने के बाद अमिताभ ने कहा- कहीं यह घर….. 

नई दिल्ली। मेगास्टार अमिताभ बच्चन को रविवार को यहां राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दादासाहेब फाल्के पुरस्कार प्रदान किया। सरकार की तरफ से प्रदान किया जाने वाला यह पुरस्कार सिनेमा के क्षेत्र में दिया जाने वाला भारत का सर्वोच्च सम्मान है। अमिताभ को अपने विविधरंगी कार्य के जरिए पीढ़ियों को प्रेरित करने के लिए यह पुरस्कार प्रदान किया गया है।

पत्र सूचना कार्यलय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर बिग बी को पुरस्कार ग्रहण करते हुए एक वीडियो साझा किया गया है। वह अपनी पत्नी और अभिनेत्री जया बच्चन, पुत्र व अभिनेता अभिषेक बच्चन के साथ समारोह में उपस्थित हुए।

अमिताभ (77) इसके पहले यहां पिछले सप्ताह आयोजित हुए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह में यह पुरस्कार प्राप्त करने वाले थे। लेकिन स्वास्थ्य कारणों से वह पुरस्कार समारोह में हिस्सा नहीं ले पाए।

केंद्रीय सूचना मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सितंबर में घोषणा की थी कि अमिताभ बच्चन को दादासाहेब पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

अमिताभ बच्चन ने पुरस्कार लेने के बाद सभी का शुक्रिया अदा किया और यह भी साफ किया कि वह अभी रिटायर नहीं होने जा रहे हैं, अभी उन्हें काम मिल रहा है।

अमिताभ बच्चन ने कहा कि दादा साहब फाल्के पुरस्कार को देने की शुरुआत करीब 50 साल पहले हुई और मुझे इंडस्ट्री में काम करते हुए भी करीब 50 साल हो गए हैं। उन्होंने कहा कि जब इस पुरस्कार की घोषणा हुई मेरे मन में एक संदेह उठा कि क्या कहीं ये संकेत है मेरे लिए कि भाई साहब आपने बहुत काम कर लिया है, अब घर बैठ के आराम कीजिए। क्योंकि अभी भी थोड़ा काम बाकी है, जिसे मुझे पूरा करना है और आगे भी कुछ ऐसी संभावनाएं बन रही हैं जहां मुझे काम करने का अवसर मिलेगा, यदि इसकी पुष्टि हो जाए तो बड़ी कृपा होगी। इस दौरान बैठे सभी लोग हंस पड़े और तालियों की गड़गड़ाट से सभागार गूंज उठा।

आखिर में कार्यक्रम की उद्घोषिका ने कहा कि भारत का दर्शक आपको आराम नहीं करने देगा। अमिताभ ने रूपहले पर्दे पर अपनी यात्रा की शुरुआत ‘सात हिंदुस्तानी’ से की थी, और उसके बाद उन्होंने राजेश खन्ना स्टारर ‘आनंद’ में काम किया।

अमिताभ को प्रसिद्धि मिली प्रकाश मेहरा की 1973 में आई फिल्म ‘जंजीर’ से। उसके बाद अमिताभ ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। इसी फिल्म से अमिताभ एंग्री यंगमैन के अवतार में सामने आए।

अमिताभ के तरह-तरह के प्रशंसक हैं। कुछ लोग उन्हें ‘दीवार’, ‘जंजीर’, ‘डॉन’ और ‘शोले’ के लिए याद करते हैं, जबकि कुछ प्रशंसक उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्म ‘ब्लैक’, ‘पा’ और ‘पीकू’ के लिए पसंद करते हैं। कुछ प्रशंसक ऐसे भी हैं, जो उनकी कामिक टाइमिंग की प्रशंसा करते हैं, जबकि कुछ अन्य पर्दे पर उनकी दमदार उपस्थिति के मुरीद हैं। बिग बी की आने वाली फिल्मों में ‘चेहरे’, ‘गुलाबो सिताबो’, ‘ब्रह्मास्त्र’ और ‘आंखें 2’ शामिल हैं।

संबंधित पोस्ट

15 फरवरी को हो सकता है बिग बॉस 13 का फिनाले

क्रिस्टल अवॉर्ड से सम्मानित हुईं दीपिका

अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘चेहरे’ अब 17 जुलाई को रिलीज होगी

पेरियार की रैली पर टिप्पणी के लिए माफी नहीं मांगूंगा : रजनीकांत

दुनिया में सारी चीजें प्यार से ही चलती हैं : इम्तियाज

शाहरूख का गोल्ड मेडल बना अबराम, पिता को किया गौरवान्वित

राष्ट्रपति ने निर्भया के दोषी की दया याचिका खारिज की

बस, अंडरवेयर ऑनलाइन खरीदने  में हिचकते हैं शाहरूख

प्रियंका ने किया खुलासा, क्यों लिया निक को डेट करने का फैसला

ट्विंकल की किताब को मिला 17वां क्रॉसवर्ड पुरस्कार

अजय देवगन की फिल्म ‘तानाजी’ हरियाणा में हुई टैक्स फ्री

जब कंगना के सामने आ गए डकैत