यौन उत्पीड़न : क्या कहा सनी-रानी ने…

उत्पीड़न को लेकर चुप नहीं रहने की दी सलाह

मुंबई। भारत में नारी सुरक्षा को लेकर जहां सवाल उठ रहे हैं, वहीं बॉलीवुड की अभिनेत्रियां देश की महिलाओं को जागृरूक करने का प्रयास भी कर रही हैं। हाल ही में अपने इंस्टाग्राम के अकाउंट में सनी ने एक वीडियो पोस्ट की जिसमें उन्होंने कार्यस्थल पर उत्पीड़न को लेकर चुप नहीं रहने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि वह समझती हैं कि कार्यस्थल पर उत्पीड़न बेहद मुश्किल होता है, लेकिन उसके बारे में चुप नहीं रहना चाहिए बल्कि इसे उजागर करना चाहिए। आप अपने लिए एक सहायक बॉस की तलाश करें। वीडियो इस बात पर प्रकाश डालता है कि अगर किसी का शोषण करने के लिए पॉवरफुल पद का उपयोग किया जा रहा है, तो ऐसे में चुप नहीं रहकर व्यक्ति को चाहिए कि वह इस बारे में बात करें। उनकी आगामी वेब सीरीज ‘रागिनी एमएमएस रिटर्न्‍स सीजन 2’ के बाबत उन्होंने संदेश दिया है। यह एक डरावनी कहानी के साथ अंतरंग होने के दौरान सहमति के महत्व पर प्रकाश डालती है। सनी ने सीरीज में पैरानॉर्मल एक्सपर्ट के तौर पर कैमियो किया है। इस वेब सीरीज का हाल ही में ट्रेलर रिलीज हुआ है। 18 दिसंबर को ओटीटी प्लेटफार्मों पर वेब सीरीज को जी5 और एएलटीबालाजी पर लॉन्च किया जाएगा। इस वेब सीरीज में सनी के अलावा दिव्या अग्रवाल और वरुण सूद भी हैं।

दूसरी तरफ, बॉलीवुड अभिनेत्री रानी मुखर्जी की अपनी हालिया रिलीज फिल्म ‘मर्दानी 2’ में रानी ने महिला सशक्तिकरण का संदेश दिया है। हालांकि, फिल्म में युवतियों के साथ हुए दुष्कर्म के कुछ मामलों को दिखाया गया है, साथ ही उन मामलों में पीड़िता के मामलों को सुलझाने वाली भी एक महिला आईपीएस अधिकारी ही होती है। देश में आज दुष्कर्म के मामले रोजाना कहीं न कहीं से सामने आ रहे हैं, ऐसे में युवतियों को ऐसे अपराध को लेकर जागरूक करने वाली इस फिल्म को दर्शकों को बेहतरीन प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं। दर्शकों से मिल रही सकारात्मक प्रतिक्रिया से रानी बेहद खुश हैं। उन्होंने कहा कि फिल्म बनाने का मकसद महिलाओं के प्रति बढ़ते यौन अपराध जैसे बढ़ते खतरे से अवगत कराना है। रानी के अनुसार, फिल्म महिला सशक्तिकरण को दिखाने का कार्य करती है। एक हफ्ते में ‘मदार्नी 2’ ने 28.05 करोड़ रुपये की कमाई की है। रानी ने कहा कि ‘मर्दानी 2’ समाज का और हम जिस समय में रह रहे हैं उसका प्रतिबिंब है। मुझे खुशी है कि फिल्म देश भर के दर्शकों तक पहुंची क्योंकि इसमें एक महत्वपूर्ण संदेश है। फिल्म बनाने का हमारा मकसद महिलाओं और लड़कियों के प्रति बढ़ते यौन अपराध जैसे बढ़ते खतरे से देश को अवगत कराना है। रानी इस बात से भी खुश है कि इस फिल्म से डेब्यू कर रहे दो लोग निर्देशक गोपी पुथ्रन और खलनायक की भूमिका निभा रहे विशाल जेठवा को भी सराहना मिल रही है।