कोरोना में सौंदर्य और सेहत को संवारने में सोशल मीडिया बना मददगार

सुंदरता बरकरार रखने के घरेलू नुस्खे, विशेषज्ञों के टिप्स ले रहीं हैं महिलाएं

भोपाल/झांसी। कोरोना वायरस की महामारी को रोकने के लिए उठाए जा रहे एहतियाती कदमों के बीच महिलाओं ने अपने सौंदर्य और सेहत को बनाए रखने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है और इसके जरिए ही वे विशेषज्ञों से राय ले रही हैं।

कोरोनावायरस महामारी की रोकथाम के लिए लागू किए गए देशव्यापी बंद का असर सौंदर्य प्रसाधन के कारोबार पर भी हुआ है। एक तरफ जहां सौंदर्य प्रसाधन की दुकानें खुल नहीं रही है, तो दूसरी ओर पार्लर और जिम आदि बंद चल रहे हैं। इससे महिलाओं के लिए कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और अपनी सुविधा के लिए महिलाओं ने विशेषज्ञों से सोशल मीडिया के जरिए सीधा संवाद स्थापित करना शुरू कर दिया है। बड़े शहरों से लेकर छोटे शहरों तक के सौंदर्य और योग विशेषज्ञ से सोशल मीडिया के जरिए राय और परामर्श किया जा रहा है।

भोपाल के पार्लर संचालक नरेश सेन ने कहा कि बीते एक माह से उनका कारोबार बंद है मगर उनका अपने ग्राहकों से सीधा संवाद बना हुआ है। इसके लिए वे सोशल मीडिया के जरिए लोगों को सौंदर्य बरकरार रखने के घरेलू नुस्खे भी बता रहे हैं, जिससे लोग अपनी त्वचा की बेहतर तरीके से देखभाल कर सकें।

इसी तरह बुंदेलखंड की सौंदर्य विशेषज्ञ उषा सचान ने कहा, “लॉकडाउन चल रहा है, मगर हर कोई स्वस्थ रहने के साथ अपनी खूबसूरती को बनाए रखना चाहता है। एक तरफ जहां सौंदर्य से जुड़ा कारोबार बंद है, तो दूसरी ओर लोग भी घरों से निकलना पसंद नहीं कर रहे हैं। इस स्थिति में अपनी सेहत व सौंदर्य के लिए सजग महिलाएं लगातार संपर्क करती हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “इन परिस्थितियों में महिलाएं घर पर उपलब्ध सामग्री से अपना सौंदर्य कैसे बरकरार रख सकती हैं, इसके टिप्स दिए जा रहे हैं। इसमें सोशल मीडिया बड़ा मददगार साबित हो रहा है।”

उन्होंने आगे कहा कि परामर्श चाहने वाली महिलाओं को सिर्फ बोलकर ही नहीं, दृश्यों के जरिए भी बताया जा रहा है कि वह कैसे लेप बनाएं और अपने चेहरे और त्वचा पर लगाएं।

उन्होंने कहा, “साथ ही बालों को सेहतमंद व चमकदार रखने के तरीके भी बताए जा रहे हैं।”

बुंदेलखंड की योग प्रशिक्षक उषा सेन का कहना है कि जो लोग नियमित रूप से योग कक्षाओं में जाते थे और फिटनेस क्लब का सहारा अपनी सेहत को बनाने के लिए लेते थे, उन्हें अब घर में रहकर ही योग आदि करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा, “इसी कारण फिट रहने की इच्छुक महिलाओं को योग की विभिन्न विधियों भस्तिका, कपालभाति, अनुलोम-विलोम, भ्रामरी उदगीर और सूर्य नमस्कार करने का सोशल मीडिया के जरिए प्रशिक्षण दिया जा हैं।”

भोपाल के शिवाजी नगर निवासी राखी ने कहा कि पहले वे नियमित रूप से सुबह घूमने जाती थी और योग कक्षा में जाती थी। तब उनके लिए घर के भी काम होते थे और अपने व्यायाम आदि के लिए समय निकालना कठिन हो जाता था। कोरोना के चलते अब उनके पास बहुत समय है क्योंकि घर के काम में अन्य सदस्य हाथ बंटाने लगे हैं, मगर चाहकर भी योग कक्षाओं में नहीं जा पा रही हैं। इस बात का उन्हें मलाल है, फिर भी वे घर में रहकर ही व्यायाम आदि कर लेती हैं।

उन्होंने कहा, “सोशल डिस्टेंसिंग के कारण सुबह का घूमना तो लगभग बंद ही चल रहा है। इस स्थिति में सोशल मीडिया पर प्रशिक्षकों से टिप्स ले रही हूं।”

(आईएएनएस)

संबंधित पोस्ट

रिश्वत लेते वीडियो सोशल मीडिया में वायरल, एएसआई निलंबित

कम्पलीट लाॅकडाउन के साये में रायपुर जिला,राजधानी की सड़के हुई विरान

भोपाल में फेथ बिल्डर के ठिकानों पर आयकर छापे, करोड़ों की संपत्ति का अनुमान  

रायपुर जिला प्रशासन का लॉकडाउन पर बड़ा निर्णय,निर्धारित समय पर खुलेंगी दुकाने

रक्षाबंधन पर लॉक डाउन में मिली12 बजे तक छूट, खुली रहेंगी राखी और मिठाई दुकान

अनुपम खेर की मां, भाई और उनका परिवार कोविड-19 से संक्रमित

Corona : मप्र में ‘किल कोरोना’ अभियान में बुधवार से घर-घर सर्वे

सुशांत सिंह राजपूत के वे सपने जो अपने हाथों लिखकर रखे थे

शिवराज के एडिटेड वीडियो साझा करने पर दिग्विजय के खिलाफ एफआईआर दर्ज

सुशांत सिंह का अपने आखिरी पोस्ट में मनोस्थिति का खुलासा तो नहीं?

मगरमच्छ से बचाकर पेश की दोस्ती की मिसाल

टिकटॉक पर मौत की ख्वाहिश महंगी पड़ी