07 दिसंबर के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

विधवाओं को राहत देने बना पुनर्विवाह अधिनियम

रायपुर | आज हम आपको बताने जा रहे हैं देश विदेश में आज के दिन की ख़ास जानकारियां। आज के इतिहास में 07 दिसंबर को हुए महत्वपूर्ण लोगों के जन्म,निधन और कई आश्चर्य घटनाओं की जानकारी आपको होगी।

विधवा पुनर्विवाह अधिनियम हुआ लागु
विधवा पुनर्विवाह अधिनियम, 1856 को आज ही के दिन 07 दिसंबर 1856 में ब्रिटिश भारत में ब्राह्मण, राजपूतों, बनिया और कायस्थ जैसे कुछ अन्य जातियों के बीच मुख्य रूप से विधवापन अभ्यास पर रोक लगाने हेतु पारित किया गया था| यह कानून बच्चे और विधवाओं के लिए एक राहत के रूप में तैयार किया गया था जिसके पति की समय से पहले मृत्यु हो गई हो| हिंदू विधवा पुनर्विवाह अधिनियम 1856 हिंदू जाति में जो पूर्व की विवाह परंपरा थी उसमें विवाह अधिनियम 1856 के अधिनियम के द्वारा सभी अड़चने द्वेष आदि को इस अधिनियम के तहत समाप्त कर दिया गया और इसमें नवीन पद्धतियों को जन्म दिया गया उस समय भारत ब्रिटिश अधीन था इसलिए भारत को ब्रिटिश भारत कहा जाता था यह सुधार हिंदू विवाह के विधवाओं के लिए सबसे बड़ा सुधार था पुरातन समय में किसी औरत के पति की मृत्यु हो जाने पर उसे उसकी चिता के साथ जलना होता था या सर मुंडवाना होता था आदि ऐसी जटिल प्रक्रियाएं थी लेकिन इस अधिनियम के तहत कुछ प्रमुख सुधार लाए गए है।

2003 में डॉ रमन सिंह पहली बार छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बने
डॉ.रमन सिंह ने 7 दिसंबर, 2003 को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। छत्तीसगढ़ पृथक राज्य बनने के बाद प्रदेश में पहली बार आम चुनाव में भाजपा को बहुमत मिला था। जिसमे बतौर मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह प्रदेश के पहले निर्वाचित मुख्यमंत्री नियुक्त हुए। पहली बार भाजपा को छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में बड़ी सफलता मिली। यही कारन है की 01 दिसम्बर 2003 को छत्तीसगढ़ के इतिहास में भाजपा के विजय दिवस के रूप में दर्ज किया गया। 2003 के बाद 2008 और 2013 के विधानसभा चुनावों में भी पार्टी ने उनके नेतृत्व में जीत हासिल की और वे सीएम पद पर बरकार रहे। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के तौर पर रमन सिंह देश में बीजेपी के सबसे लंबे कार्यकाल के सीएम बनने का रिकॉर्ड बनाया।

07 दिसंबर के इतिहास में कई ऐसी महत्वपूर्ण घटनाये दर्ज है जिनमें………

1662 – फ्रांस के गणितज्ञ, लेखक और कैल्कयुलेटर मशीन के आविष्कारक ब्लेज पास्कल का निधन हुआ।
1782 – 18वीं शताब्दी के मध्य एक वीर योद्धा हैदर अली का निधन हुआ।
1825 – भाप से चलने वाला पहला जहाज ‘इंटरप्राइज’ कोलकाता पहुंचा।
1856 – देश में पहली बार आधिकारिक रूप से ‘हिंदू विधवा’ का विवाह कराया गया।
1879 – भारतीय क्रांतिकारी जतीन्द्रनाथ मुखर्जी का जन्म हुआ।
1889 – विश्व में वर्तमान रुप की पहली गाड़ी बनाई गयी।
1917 – अमेरिका प्रथम विश्व युद्ध का हिस्सा बना और उसने ऑस्ट्रिया-हंगरी पर हमला किया।
1924 – पुर्तगाल के पूर्व राष्ट्रपति मारियो सोरेस का जन्म हुआ।
1936 – ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर जैक फ्लिंगटन लगातार चार टेस्ट पारियों में शतक लगाने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बने। इनमें से 3 शतक दक्षिण अफ्रीका और 1 इंग्लैंड के खिलाफ आया।
1941 – दूसरे विश्व युद्ध के दौरान जापान ने अमेरिका के पर्ल हार्बर पर मशहूर हवाई हमला किया।
1972 – अमेरिका ने चंद्रमा के लिये अपने अभियान के तहत अपोलो 17 का प्रक्षेपण किया।
1988 – अर्मेनिया में आये 6.9 तीव्रता वाले भूकंप से 25 हजार लोगों की मौत, लाखों बेघर।
1995 – भारत ने संचार उपग्रह इनसेट-2सी का प्रक्षेपण किया।
1995 – अमेरिकी अंतरिक्ष अनुसन्धान संस्था नासा का अंतरिक्ष यान गैलीलियो बृहस्पति पहुँच गया।
2001 – विक्रमसिंघे श्रीलंका के नये प्रधानमंत्री नियुक्त।
2002 – तुर्की की आजरा अनिन मिस वर्ल्ड बनीं।
2003 – डाॅ.रमन सिंह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पद पर पहली बार आसीन हुए।
2004 – हामिद करजई ने अफगानिस्तान के पहले निर्वाचित राष्ट्रपति के रूप में शपथ ग्रहण की।
2008 – भारतीय गोल्फर जीव मिल्खा सिंह ने जापान टूर का खिताब जीता।
2016 – भारतीय अभिनेता, हास्य कलाकार, राजनीतिक व्यंग्यकार, नाटककार, फिल्म निर्देशक और अधिवक्ता चो.रामस्वामी का निधन हुआ।

संबंधित पोस्ट

22 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

21 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

20 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

18 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

17 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओं की जानकारी

16 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

15 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

14 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

13 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

11 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

10 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

09 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी