11 दिसंबर के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

बच्चों के भविष्य को सँवारने यूनिसेफ की हुई स्थापना

रायपुर | आज हम आपको बताने जा रहे हैं देश विदेश में आज के दिन की ख़ास जानकारियां। आज के इतिहास में 11 दिसंबर को हुए महत्वपूर्ण लोगों के जन्म,निधन और कई आश्चर्य घटनाओं की जानकारी आपको होगी।

यूनिसेफ की स्थापना आज हुई
यूनीसेफ की स्थापना संयुक्त राष्ट्र की महासभा ने 11 दिसंबर, 1946 को की थी। यूनिसेफ को हिंदी में “संयुक्त राष्ट्र बाल कोष” बोला जाता है। इसका आरंभिक उद्देश्य द्वितीय विश्व युद्ध में नष्ट हुए राष्ट्रों के बच्चों को खाना और स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराना था। 1953 में यूनीसेफ, संयुक्त राष्ट्र का स्थाई सदस्य बन गया। उस समय इसका नाम यूनाइटेड नेशंस इंटरनेशनल चिल्ड्रेंस फंड की जगह यूनाइटेड नेशन्स चिल्ड्रेंस फंड कर दिया गया। इसका मुख्यालय न्यूयॉर्क में है। वर्तमान में इसके मुखिया ऐन वेनेमन है। यूनीसेफ को 1965 में उसके बेहतर कार्य के लिए शांति के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 1989 में संगठन को इंदिरा गाँधी शांति पुरस्कार भी प्रदान किया गया था। इसके 120 से अधिक शहरों में कार्यालय हैं और 190 से अधिक स्थानों पर इसके कर्मचारी कार्यरत हैं। वर्तमान में यूनीसेफ फंड एकत्रित करने के लिए विश्व स्तरीय एथलीट और टीमों की सहायता लेता है। यूनीसेफ को 1965 में शांति का नोबेल पुरस्कार दिया गया।

सितारवादक पण्डित रवि शंकर
पण्डित रवि शंकर का जन्म 7 अप्रैल 1920 और निधन बनारस में 11 दिसम्बर 2012 को हुआ। वे एक सितार वादक और संगीतज्ञ थे। उन्होंने विश्व के कई मह्त्वपूर्ण संगीत उत्सवों में हिस्सा लिया है। उनके युवा वर्ष यूरोप और भारत में अपने भाई उदय शंकर के नृत्य समूह के साथ दौरा करते हुए बीते।रविशंकर ने भारतीय शास्त्रीय संगीत की शिक्षा उस्ताद अल्लाऊद्दीन खाँ से प्राप्त की।उन्होंने सत्यजीत रे की फिल्मों में संगीत भी दिया। 1949 से 1956 तक उन्होंने ऑल इंडिया रेडियो में बतौर संगीत निर्देशक काम किया। 1960 के बाद उन्होंने यूरोप के दौरे शुरु किये और येहूदी मेन्यूहिन व बिटल्स ग्रूप के जॉर्ज हैरिशन जैसे लोगों के साथ काम करके अपनी खास पहचान बनाई। उन्हें 1999 में भारत रत्न से सम्मानित किया गया। इसके बाद भारत सरकार द्वारा सन् 2009 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। भारतीय संगीत को दुनिया भर में सम्मान दिलाने वाले पंडित रविशंकर को तीन बार ग्रैमी पुरस्कार से भी नवाजा गया था। उन्होंने भारतीय और पाश्चात्य संगीत के संलयन में भी बड़ी भूमिका निभाई।

11 दिसंबर के इतिहास में कई ऐसी महत्वपूर्ण घटनाये दर्ज है जिनमें………

1687 – ईस्ट इंडिया कंपनी ने मद्रास (भारत)में नगर निगम बनाया।
1845 – प्रथम आंग्ल-सिख युद्ध शुरू।
1858 – बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय और यदुनाथ बोस कलकत्ता विश्वविद्यालय से कला विषय के पहले स्नातक बने।
1882 – तमिल कवि सुब्रह्मण्य भारती का जन्म हुआ।
1922 – भारतीय सिनेमा के महान अभिनेताओं में शुमार दिलीप कुमार का जन्म हुआ था।
1935 – भारत के विदेशमंत्री और वित्त मंत्री और पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का जन्म हुआ।
1941 – जर्मनी और इटली ने अमेरिका के खिलाफ युद्ध की घोषणा की थी। पहले इटली के शासक बेनिटो मुसोलिनी और फिर जर्मनी के तानाशाह एडोल्फ हिटलर ने ये घोषणा की।
1946 – डॉ. राजेन्द्र प्रसाद भारत की संविधान सभा के अध्यक्ष निर्वाचित हुए।
1946 – संयुक्त राष्ट्र के यूनिसेफ की स्थापना हुई।
1969 – भारतीय शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद का जन्म हुआ।
1969 – भारत की प्रसिद्ध महिला धाविकाओं में से एक ज्योतिर्मयी सिकदार का जन्म हुआ।
1983 – जनरल एच.एम. इरशाद ने खुद को बांग्लादेश का राष्ट्रपति घोषित किया।
1994 – रूस के तत्कालीन राष्ट्रपति बोरिस येल्तसिन ने चेचेन विद्रोहियों पर हमला किया तथा उनके इलाके में सेना भेज दी।
1998 – 23वें काहिरा अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में तमिल फिल्म ‘टेररिस्ट’ में सर्वश्रेष्ठ भूमिका के लिए आयशा धारकर को ज्यूरी का सर्वश्रेष्ठ पुरस्कार प्रदान किया गया।
2001 – चीन को विश्व व्यापार संगठन में प्रवेश मिला।
2002 – स्पेन के नौसैनिकों ने अरब सागर में उत्तर कोरिया के एक जहाज को पकड़ा, इसमें स्कड मिसाइलें लदी थीं।
2004 – कर्नाटक संगीत की प्रसिद्ध गायिका एवं अभिनेत्री एम.एस.सुब्बुलक्ष्मी का निधन हुआ।
2007 – उत्तर व दक्षिण कोरिया के बीच 50 वर्ष बाद रेल सेवा पुनः प्रारम्भ।
2012 – भारत रत्न सम्मानित प्रसिद्ध सितार वादक पंडित रविशंकर का निधन हुआ।
2014 – अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की स्वीकृति संयुक्त राष्ट्र ने 11 दिसंबर को दे दी।

संबंधित पोस्ट

19 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

14 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

13 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

12 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

11 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

09 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

08 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

05 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

04 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

03 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

02 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

01 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी