18 दिसंबर के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

संत परंपरा में सर्वोपरि संत गुरु घासीदास का जन्म हुआ

रायपुर | आज हम आपको बताने जा रहे हैं देश विदेश में आज के दिन की ख़ास जानकारियां। आज के इतिहास में 18 दिसंबर को हुए महत्वपूर्ण लोगों के जन्म,निधन और कई आश्चर्य घटनाओं की जानकारी आपको होगी।

संत गुरु घासीदास का जन्म
गुरू बाबा घासीदास छत्तीसगढ़ के जिला रायपुर में ग्राम गिरौदपुरी तहसिल बलौदाबाजार में पिता महंगुदास जी एवं माता अमरौतिन के यहाँ 18 दिसंबर 1756 को अवतरित हुये थे। गुरू घासीदास जी सतनाम समाज के प्रवर्तक है। गुरूजी भंडारपुरी को अपना धार्मिक स्थल के रूप में संत समाज को प्रमाणित सत्य के शक्ति के साथ दिये। वहाँ गुरूजी के वंशज आज भी निवासरत है। उन्होंने अपने समय की सामाजिक आर्थिक विषमता, शोषण तथा जातिभेद को समाप्त करके मानव-मानव एक समान का संदेश दिये। इनसे समाज के लोग बहुत ही प्रभावित रहे हैं। गुरू घासीदास के संदेशों और उनकी जीवनी का प्रसार पंथी गीत व नृत्यों के जरिए भी व्यापक रूप से हुआ। यह छत्तीसगढ़ की प्रख्यात लोक विधा भी मानी जाती है।

ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल
18 दिसम्बर 2008 को भारत ने बंगाल की खाड़ी में ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया। इस मिसाइल का निर्माण भारत और रूस के संयुक्त सैन्य उपक्रम ने किया है। ब्रह्मोस एक कम दूरी की रैमजेट, सुपरसॉनिक क्रूज मिसाइल है। इसे पनडुब्बी से, पानी के जहाज से, विमान से या जमीन से भी छोड़ा जा सकता है। रूस की एनपीओ मशीनोस्ट्रोयेनिया तथा भारत के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने संयुक्त रूप से इसका विकास किया है। यह रूस की पी-800 ओंकिस क्रूज मिसाइल की प्रौद्योगिकी पर आधारित है। ब्रह्मोस के समुद्री तथा थल संस्करणों का पहले ही सफलतापूर्वक परीक्षण किया जा चुका है तथा भारतीय सेना एवं नौसेना को सौंपा जा चुका है। ब्रह्मोस भारत और रूस के द्वारा विकसित की गई अब तक की सबसे आधुनिक प्रक्षेपास्त्र प्रणाली है और इसने भारत को मिसाइल तकनीक में अग्रणी देश बना दिया है।

18 दिसंबर के इतिहास में कई ऐसी महत्वपूर्ण घटनाये दर्ज है जिनमें………

1642 – समुद्री खोजी नाविक तस्मान न्यूजीलैंड की धरती पर उतरा। उसी के नाम पर न्यूजिलैंड के समीपवर्ती समुद्र को तस्मानिया समुद्र भी कहा जाता है।
1756 – भारत के छत्तीसगढ़ राज्य की संत परंपरा में सर्वोपरि माने जाने वाले संत गुरु घासीदास का जन्म हुआ।
1777 – अमेरिका में पहली बार नेशनल थैंक्स गिविंग डे मनाया गया।
1778 – इंग्लिश क्राउन के नाम से मशहूर जोसेफ ग्रेमैल्डी का जन्म हुआ।
1799 – अमेरिका के पहले राष्ट्रपति जार्ज वाशिंगटन के पार्थिव शरीर को माउंट वर्नान में दफनाया गया।
1839 – अमेरिका के जॉन ड्रेपर ने पहली बार किसी आकाशीय पिंड (चंद्रमा) की तस्वीर उतारी।
1878 – अल-थानी परिवार कतर पर शासन करने वाला पहला परिवार बना।
1899 – फील्ड मार्शल लार्ड राबर्ट्स दक्षिण अफ्रीका में पहले ब्रिटिश सुप्रीम कमांडर नियुक्त किये गये।
1902 – इटली के प्रसिद्ध अविष्कारक मार्कोनी ने पहला रेडियो स्टेशन बनाया।
1941 – द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान जापानी सेना हांगकांग पहुंची और आम नागरिकों का कत्ल करना शुरू कर दिया।
1960 – राजधानी दिल्ली में राष्ट्रीय संग्रहालय का उद्घाटन हुआ।
1973 – इस्लामिक डेवलपमेंट बैंक की स्थापना।
1988 – ऑस्ट्रेलिया ने महिला विश्व कप के फाइनल में इंग्लैंड को 8 विकेट से हराकर लगातार तीसरी बार खिताब जीतने की हैट्रिक बनाई।
1989 – सचिन तेंदुलकर ने अपना पहला एकदिवसीय क्रिकेट मैच पाकिस्तान के खिलाफ खेला था।
1995 – अज्ञात विमान ने पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में हथियारों का जखीरा गिराया।
1997 – भारत और अमेरिका के बीच अंतरिक्ष अनुसंधान में सहयोग के लिए वाशिंगटन संधि सम्पन्न।
2007 – जापान ने इंटरसेप्टर मिसाइल का परीक्षण किया।
2008 – ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण हुआ।
2014 – सबसे भारी रॉकेट जीएसएलवी मार्क-3 का सफल प्रक्षेपण हुआ।
2017 – राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में भारत ने 30 में से 29 स्वर्ण जीते।

संबंधित पोस्ट

20 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

18 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

17 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओं की जानकारी

16 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

15 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

14 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

13 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

11 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

10 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

09 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

08 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

07 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी