10 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

लंदन में विश्व की पहली मेट्रो रेल सेवा शुरू हुई

रायपुर | आज हम आपको बताने जा रहे हैं देश विदेश में आज के दिन की ख़ास जानकारियां। आज के इतिहास में 10 जनवरी को हुए महत्वपूर्ण लोगों के जन्म,निधन और कई आश्चर्य घटनाओं की जानकारी आपको होगी।

लंदन शहर में भूमिगत रेल की शुरुआत हुई
10 जनवरी 1863 को दुनिया की पहली भूमिगत रेल सेवा लंदन में शुरू हुई। यह रेल सेवा पैडिंगटन से फ़ैरिंगटन के बीच शुरु हुई और पहले ही दिन इसमें चालीस हज़ार यात्रियों ने सफ़र किया। धीरे-धीरे ज़मीन के नीचे और सुरंगें बनाई गईं और एक पूरा रेलवे नैटवर्क बन गया। ये ट्रेनें भाप के इंजन से चलती थीं। इसीलिए ज़मीन के नीचे जो सुरंग बनाई गई थी उसमें कुछ कुछ दूरी पर वैंटिलेशन का इंतज़ाम था जिससे भाप बाहर निकल सके। सन 1905 से ट्रेनें बिजली से चलने लगीं। लंदन ब्रिटिश साम्राज्य की राजधानी थी और यहां की आबादी बढ़ती जा रही थी। वैसे शहर के चारों ओर रेलवे स्टेशन थे लेकिन शहर के केन्द्र तक पहुंचने में लोगों को बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ता था। लंदन की यातायात समस्या का हल निकालने के लिए भूमिगत रेल सेवा का प्रस्ताव सबसे उपयुक्त समझा गया। जहां तक एशिया का सवाल है, सबसे पहले जापान में भूमिगत रेल सेवा शुरु हुई थी और अब कोरिया, चीन, हाँग काँग, ताईवान, थाईलैंड और भारत में भी ये रेल सेवाएं चल रही हैं। भारत में कोलकाता,गुड़गांव,जयपुर,चेन्नई, बंगलुरु और दिल्ली में भूमिगत रेलें चल रहीं है।

भारत में आई लखटकिया कार
10 जनवरी 2008 में कार को ऑटो एक्सपो में प्रदर्शित किया गया। जिसके बाद साल 2009 में रतन टाटा ने टाटा मोटर्स ने ”नैनो” कार को लॉन्च किया। इस कार के जरिए रतन टाटा आम लोगों के कार के सपने को पूरा करना चाहते थे। यही वजह है कि रतन टाटा ने लॉन्चिंग के वक्त इसे ‘लोगों की कार’ कहा था। इस कार की शुरुआती कीमत 1 लाख रुपये के आसपास थी। इसलिए नैनो कार को लखटकिया कार भी कहा गया। कंपनी ने नैनो की 71 इकाइयों में प्रोडक्शन शुरू किया। शुरूआती दौर में नैनो की काफी अच्छी डिमांड रही। लेकिन बदलते वक्त ने इस कार को अब लोग भूलने लगे हैं।

10 जनवरी के इतिहास में कई ऐसी महत्वपूर्ण घटनाये दर्ज है जिनमें………

1616 – ब्रिटिश राजदूत सर थॉमस रो ने अजमेर में जहांगीर से मुलाकात की।
1692 – कोलकाता के निर्माता जाब चार्नोक का निधन।
1824 – ब्रिटेन के रसायनशास्त्री जोजफ ऐस्पीडियन ने सीमेंट बनाई।
1836 – प्रोफेसर मधुसूदन गुप्ता ने पहली बार मानव शरीर की आंतरिक संरचना का अध्ययन किया।
1839 – भारतीय चाय इंग्लैंड पहुँची।
1863 – लंदन में विश्व की पहली भूमिगत रेल सेवा शुरू हुई।
1886 – भारत के शिक्षाविद, अर्थशास्त्री एवं न्यायविद् जॉन मथाई का जन्म।
1912 – ब्रिटिश नरेश जार्ज पंचम और रानी मैरी ने भारत छोड़ा।
1916 – प्रथम विश्व युद्ध के दौरान रूस ने ओटोमन साम्राज्य को हराया।
1920 – प्रथम वार्सा संधि के आधिकारिक तौर पर प्रभाव में आने से विश्व युद्ध समाप्त हुआ।
1940 – भारतीय पाश्र्व गायक और शास्त्रीय संगीतकार के. जे. येसुदास का जन्म।
1946 – लंदन में संयुक्त राष्ट्र महासभा की पहली बैठक में 51 राष्ट्रों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
1954 – ब्रिटेन ने बनाया हुआ दुनिया का पहला जेट विमान कॉमेट भूमध्यसागर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें विमान में सवार सभी 35 लोग मारे गए थे।
1963 – भारत सरकार ने स्वर्ण नियंत्रण योजना की शुरुआत की। जिसके तहत 14 कैरेट से अधिक के गहनों पर पाबंदी लगा दी।
1967 – टोक्यो, जापान युद्ध अपराध न्यायाधिकरण में भारतीय न्यायाधीश राधाबिनोद पाल का निधन।
1972 – पाकिस्तान में जेल में नौ महीने से अधिक समय तक कैद रहने के बाद शेख मुजीबुर रहमान राष्ट्रपति के रूप में स्वतंत्र राष्ट्र बने बंगलादेश पहुंचे।
1974 – भारतीय अभिनेता ऋतिक रोशन का जन्म।
1994 – प्रसिद्ध कवि एवं नाटककार गिरिजाकुमार माथुर का निधन।
2006 – प्रधानमन्त्री मनमोहन सिंह ने 10 जनवरी को प्रति वर्ष विश्व हिन्दी दिवस के रूप मनाये जाने की घोषणा की थी।
2008 – कार निर्माण की अग्रणी आटोमोबाइल कंपनी ‘टाटा मोटर्स’ ने एक लाख रुपये वाली कार ‘नैनो’ को पेश किया। इसे लखटकिया के नाम से भी पहचान मिली।

संबंधित पोस्ट

17 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओं की जानकारी

16 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

15 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

14 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

13 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

11 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

09 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

08 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

07 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

06 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

04 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

02 जनवरी के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी