11 नवंबर के इतिहास मे आपको मिलेगी विश्व के घटनाओं की जानकारी

आज है राष्ट्रीय शिक्षा दिवस

रायपुर | आज हम आपको बताने जा रहे हैं देश विदेश में आज के दिन की ख़ास जानकारियां। आज के इतिहास में 11 नवम्बर को हुए महत्वपूर्ण लोगों के जन्म,निधन और कई आश्चर्य घटनाओं की जानकारी आपको होगी।

फिलिस्तीनी नेता यासिर अराफ़ात का आज ही के दिन निधन हुआ था
फिलिस्तीनी नेता यासिर अराफ़ात का पूरा नाम मोहम्मद अब्दुल रहमान अब्दुल रऊफ़ अराफ़ात अलकुव्दा अल हुसैनी था। उनका जन्म 4 अगस्त, 1929 को हुआ था। इनकी पहचान यासिर अराफ़ात के नाम से हुई और वे राष्ट्रिय लोकप्रियता भी हासिल की। यासिर अराफात फिलिस्तीनी नेता एवं फिल्स्तीनी मुक्ति संगठन के अध्यक्ष थे। अराफात ऐसे पहले शख्स थे, जिन्हें किसी राष्ट्र का नेतृत्व न करते हुए भी संयुक्त राष्ट्र में भाषण देने के लिए आमंत्रित किया गया था। अराफात के नेतृत्व में उनके संगठन ने शांति की जगह संघर्ष को बढ़ावा दिया और इजरायल हमेशा उनके निशाने पर रहा। शांति से दूर संघर्ष की पहल करने वाले अराफात की छवि 1988 में अचानक बदली हुई दिखी। वो संयुक्त राष्ट्र में शांति के दूत के रूप में नजर आए। बाद में उन्हें शांति के नोबेल पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को वो अपनी बड़ी बहन मानते थे। इन्होंने भारत में 1991 के चुनाव अभियान के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को जानलेवा हमले को लेकर आगाह किया था। आज ही के दिन 11 नवंबर, 2004 को रासीर अराफात ने दुनिया को अलविदा कहा था।देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद का आज है जयंती
मौलाना अबुल कलाम आज़ाद या अबुल कलाम गुलाम मुहियुद्दीन का जन्म सऊदी अरब में 11 नवंबर, 1888 को हुआ और उनका देहांत 22 फरवरी, 1958 को हुआ। आज़ाद एक प्रसिद्ध भारतीय मुस्लिम विद्वान के साथ ही कवि, लेखक, पत्रकार और भारतीय स्वतंत्रता सेनानी भी थे। उन्होंने हिंदू-मुस्लिम एकता के लिए कार्य किया, तथा वे अलग मुस्लिम राष्ट्र यानी पाकिस्तान के सिद्धांत का विरोध करने वाले मुस्लिम नेताओ में से थे। खिलाफत आंदोलन में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही। 1923 में अबुल कलाम आजाद भारतीय नेशनल काग्रेंस के सबसे कम उम्र के प्रेसीडेंट बने। देश की आजादी के वाद हुए आम चुनाव में अबुल कलाम आजाद उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले से 1952 में सांसद चुने गए और वे भारत के पहले शिक्षा मंत्री बने। 11 नवंबर को देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद की जयंती होती है, जिसे देश में ‘‘राष्ट्रीय शिक्षा दिवस’’ के रूप में मनाया जाता है।

11 नवंबर के इतिहास में कई ऐसी महत्वपूर्ण घटनाये दर्ज है जिनमें………

1745 चार्ल्स एडवर्ड स्टुअर्ट उर्फ बोनी प्रिंस चार्ली की सेना इंग्लैंड में घुसी।
1750 एफ.एच.सी. सोसायटी, जिसे फ्लैट हैट क्लब के नाम से भी जाना जाता है, वर्जीनिया के विलियमस्बर्ग, रैले टेवर्न में बनाया गया। यह पहला कॉलेज बिरादरी था।
1765 फ़्रांस के एक रसायनशास्त्री तथा आधुनिक फोटोग्राफी के जनक नैस्फ़र नेपेस का जन्म हुआ। वे पहले व्यक्ति थे जिन्होंने फ़ोटो खींचने में सफलता प्राप्त की।
1818 रॉबर्ट मॉरिसन द्वारा एंग्लो-चीनी कॉलेज मलक्का में की स्थापना की गयी।
1852 वेस्टमिंस्टर का नया पैलेस लंदन में खोला गया।
1888 स्वतंत्रता सेनानी मौलाना अबुल कलाम आजाद का सऊदी अरब में जन्म हुआ।
1889 वाशिंगटन को अमेरिका का 42वां प्रांत घोषित किया गया।
1930 एल्बर्ट आइंस्टीन को ‘आइंस्टीन रेफ्रीजरेटर’ के अविष्कार का पेटेंट दिया गया।
1953 कैम्ब्रिज विवि में पहली बार ‘पोलियो वायरस’ की पहचान हुई और उसका चित्र लिया।
1973 पहली अंतरराष्ट्रीय डाक टिकट प्रदर्शनी नई दिल्ली में शुरु हुई।
1985 एड्स थीम पर आधारित पहली टीवी फिल्म ‘एन अर्ली फ्रोस्ट’ अमेरिका में प्रदर्शित की गई।
2000 कपहून, ऑस्ट्रिया स्थित एल्पाइन सुरंग में एक केबल कार में आग लगने से 155 की मौत हुई।
2014 पाकिस्तान के सख्खर प्रांत में एक बस दुर्घटना में 58 लोग मारे गये।

संबंधित पोस्ट

19 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

14 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

13 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

12 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

11 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

09 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

08 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

05 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

04 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

03 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

02 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी

01 मई के इतिहास में आपको मिलेगी विश्व के घटनाओ की जानकारी