1 से 15 जुलाई के बीच होने वाली 10-12वीं की सीबीएसई परीक्षाएं रद्द

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सुप्रीम कोर्ट को दी जानकारी

नई दिल्ली। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान बताया कि सीबीएसई की एक जुलाई से 15 जुलाई के बीच होने वाली 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने का फैसला किया गया है।

सीबीएसई बोर्ड की 10वीं और 12वीं क्लास के बचे हुए एग्जाम को कराने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। महाराष्ट्र, दिल्ली और ओडिशा ने परीक्षा कराने में असमर्थता जताई है। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि 10वीं और 12वीं की 1 से 15 जुलाई को होने वाली परीक्षा को रद्द कर दिया गया है।

मानव संसधान विकास मंत्रालय ने सर्वोच्च न्यायालय को यह भी बताया कि मार्किंग की नई व्यवस्था समेत बाकी बातों पर कल तक अधिसूचना जारी हो जाएगी। असेसमेंट के आधार पर 10वीं और 12वीं के नतीजे 15 जुलाई तक घोषित कर दिए जाएंगे।

बता दें कि कल मानव संसाधन विकासमंत्री ने बताया था कि दिल्ली समेत कई राज्यों ने कोरोना संक्रमण से उत्पन्‌न हालात को देखते हुए परीक्षाएं आयोजित करने में असमर्थता जताई थी। जिसे लेकर गृह विभाग से बातचीत चल रही थी।