रायपुर के होनहार प्रसून बोपचे को मिला ईएसआई में 38वा रैंक

प्रसून ने किया छत्तीसगढ़ का नम रौशन

रायपुर | राजधानी रायपुर के एक होनहार युवा ने फिर राजधानी का नाम रोशन कर दिया है। प्रसून बोपचे ने यूपीएससी की इंजीनियरिंग सर्विस परीक्षा ईएसआई में मुकाम हासिल किया है। पूरे भारत में उसने 38 वां रैंक प्राप्त किया है। रायपुर के रोहिणीपुरम क्षेत्र में रहने वाले प्रसून 2018 में मेंस दिया था और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की परीक्षा भी उत्तीर्ण की थी। यूपीएससी में प्रतिवर्ष इंजीनियरिंग विभागों में भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित होती है जिसमें 500 से 600 छात्रों का चयन भी किया जाता है।
प्रसून बोपचे आईआईटी बीटेक की पढ़ाई खड़कपुर पश्चिम बंगाल से की है। पढ़ाई पूरी करने के बाद प्रसून एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी भी कर रहा है प्रसून की माने तो उसने जो चाहा उसे कर दिखाया है यानी 2017 में यूपीएससी के इंजीनियरिंग सर्विस परीक्षा की परीक्षा उसने दी थी लेकिन मींस में चैन नहीं हुआ और आगे उसने अपने कमियों पर एकाग्र चित्त होकर तैयारी शुरू कर दी यही कारण है कि अब उसे सफलता हाथ लगी है

लगन और नकारात्मक सोच दिलाती है सफलता-प्रसून
प्रसून बोपचे ने कहा कि आगे बढ़ने के लिए मानसिक तैयारी होना सबसे ज्यादा जरूरी है। मेहनत तो सभी करते हैं, लेकिन सफलता किसी एक को ही मिलती है। प्रसून ने अपनी सफलता पर अपने माता-पिता और दोस्तों का विशेष साथ मिलना बताया। उसने यह भी कहा कि उसे बचपन से ही शौक था कि वह इंजीनियरिंग के फील्ड में ही आगे बढ़े। यही कारण है कि यूपीएससी मेंस में सिलेक्शन नहीं होने के बावजूद भी वह निराश नहीं हुआ।वह और ज्यादा मेहनत कर अबकी बार सफल होने में कामयाब रहा। उसे मिली सफलता के बाद उसने सभी युवाओं को नकारात्मक सोच से दूर रहने की सलाह दी है।