जूते बेचने वाले की बेटी मेरिट में आई, बनना चाहती है डॉक्टर

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मधु की हर संभव मदद का भरोसा दिलाया

श्योपुर/भोपाल। मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की हायर सेकेंडरी (12वीं) की परीक्षा में विज्ञान संकाय में मधु आर्य ने प्रदेश तीसरा स्थान हासिल किया है। सड़क किनारे जूते की दुकान लगाने वाले की बेटी मधु के सपने बड़े हैं। वह आगे चलकर डॉक्टर बनना चाहती है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मधु की हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है।

श्योपुर जिले के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय की छात्रा मधु आर्य बताती है कि उसके पिता बस स्टैंड इलाके में सड़क किनारे जूतों की छोटी सी दुकान लगाते हैं। वह सुबह और शाम के समय चार-चार घंटे पढ़ती थी। वह डॉक्टर बनना चाहती है और कहती है कि उसके परिवार की यह स्थिति नहीं है कि वह इस पढ़ाई का खर्च वहन कर सके।

मधु का कहना है कि उसके परिवार के लिए पढ़ाई कराना कठिन था, मगर उन्होंने कोई कसर नहीं छोड़ी। आगे की पढ़ाई के लिए वह सरकार से मदद की उम्मीद करती है। मधु की सफलता से उसके परिवार का हर सदस्य खुश है।

वहीं मुख्यमंत्री शिवराज ने मधु को हर संभव मदद का वादा करते हुए कहा, “बेटी मधु, बहुत-बहुत बधाई, शुभकामनाएं! तुम केवल अपनी पढ़ाई पर ध्यान दो। जब तक तुम्हारा मामा शिवराज है, तुम्हें चिंता करने की जरूरत नहीं। हमारी सरकार तुम्हारे लक्ष्य की प्राप्ति में हरसंभव मदद करेगी। तुम्हारे सपने अवश्य पूरे होंगे। मेरा आशीर्वाद तुम्हारे साथ है।”

(आईएएनएस)