Video:शिक्षा मंत्री ने जारी किया दसवीं परीक्षा का परिणाम,शत-प्रतिशत रहा रिजल्ट

12 वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए जल्द लिया जायेगा निर्णय

रायपुर | आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर दसवीं बोर्ड परीक्षा का परिणाम वर्ष 2020-21 का जारी किया गया है। विद्यार्थियों का रिजल्ट पहली बार शत प्रतिशत रहा। 

प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण होने का रिकॉर्ड भी कायम किया गया है। जिसमें 4 लाख 46 हजार विद्यार्थी प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुए हैं।

गौरतलब है कि स्छूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने आज छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल के कार्यालय में परिणाम जारी किया। दसवीं के विद्यार्थी CGBSE का परिणाम बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट www.cgbse.nic.in पर आसानी से देख सकते हैं। वेबसाइट पर परिणाम देखने  के लिए छात्र-छात्राओं को अपने रोल नंबर और जन्म तिथि को एंट्री करने पर रिजल्ट डिस्प्ले हो जाएगा।

इस परीक्षा में 4 लाख  67 हजार 261 परीक्षार्थी शामिल हुए थे, जिसमें 6168 का परीक्षा फार्म रद्द हो गया है। बाकी बचे 4 लाख 61 हजार 93 परीक्षार्थी का परिणाम जारी किया गया है। परिणाम में 2 लाख 24 हजार 112 परीक्षार्थी छात्र व 2 लाख 31 हजार 999 छात्राएं शामिल थी। उत्तीर्ण परीक्षार्थियों में 4 लाख 46 हजार 393 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में, 9024 सेकंड डिवीजन में और 55676 थर्ड डिवीजन से पास हुए हैं।

446393 छात्र में से प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुए परिणाम का प्रतिशत 96.81 रहा। वहीँ द्वितीय श्रेणी में 9024 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए तथा तृतीय श्रेणी में 5676 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं है । प्रथम श्रेणी में 95.66 प्रतिशत, द्वितीय श्रेणी में 2.65 प्रतिशत तथा तृतीय श्रेणी में 1.68 प्रतिशत बालक परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। इसी प्रकार प्रथम श्रेणी में 97.90 प्रतिशत, द्वितीय श्रेणी में 1.30 प्रतिशत तथा तृतीय श्रेणी में 0.80 प्रतिशत बालिकाएँ उत्तीर्ण हुई है।

इस वर्ष आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर परीक्षा परिणाम घोषित किए गए। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा इस वर्ष प्रावीण्य सूची में जारी नहीं करने का निर्णय लिया गया है। अतः प्रावीण्य सूची जारी नहीं की गई है। इसके अतिरिक्त पुनर्गणना एवं पुनर्मूल्यांकन का प्रावधान भी इस परीक्षा में समाप्त किया गया है, जो परीक्षार्थी अपने परीक्षा परिणाम से संतुष्ट नही हैं, उन्हें आगामी परीक्षा में श्रेणी सुधार के लिए सम्मलित होने की पात्रता होगी।

12वीं बोर्ड परीक्षा पर मंथन जारी 

स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने दसवीं के रिजल्ट जारी करने के बाद 12 वीं के परीक्षार्थियों के लिए भी उचित निर्णय लिए जाने की बात कही। मंत्री के माने तो शासन की निगाहें अब CBSE के निर्णय पर टिकी हुई है। उनके द्वारा लिए गए निर्णय के आधार पर छत्तीसगढ़ बोर्ड भी अपना निर्णय जल्द ही लेगा। शायद उनका इशारा भी दसवीं की तरह गई 12 वीं में भी असाइनमेंट की तरफ ही था। आपको बता दें की प्रदेश में 12वीं बोर्ड की परीक्षा 3 मई से 24 मई तक आयोजित होने वाली थी। लेकिन कोरोना महामारी के चलते उसे स्थगित किया गया था। साथ ही कहा गया था कि कोरोना महामारी की परिस्थिति में सुधार होने के बाद ही 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए नई समय सारणी जारी की जाएगी।

शिक्षा मंत्री ने 12 वीं के लिए ये कहा,देखिये वीडियो-