वेलेंटाइन डे से पहले आगरा कॉलेज ने सर्कुलर में लड़कियों को बॉयफ्रेंड बनाने को कहा! 

आगरा | आगरा के सेंट जॉन्स कॉलेज के प्रिंसिपल ने कथित रूप से फर्जी सर्कुलर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद थाने में शिकायत दर्ज कराई है। सर्कुलर में छात्राओं से वेलेंटाइन डे से पहले कम से कम एक बॉयफ्रेंड बनाने के लिए कहा गया है।

सेंट जॉन्स कॉलेज के कथित लेटरहेड पर ‘सर्कुलर’ जारी किया गया था और कहा गया था कि सभी लड़कियों के लिए सुरक्षा उद्देश्यों के लिए 14 फरवरी तक कम से कम एक बॉयफ्रेंड बनाना अनिवार्य है।

प्रिंसिपल प्रो एस. पी. सिंह ने सर्कुलर को ‘शरारती और फर्जी’ करार दिया और इस तरह के किसी भी सर्कुलर को जारी करने से मना किया।

सेंट जॉन्स कॉलेज के कथित लेटरहेड पर सर्कुलर जारी किया गया था और कहा गया था कि सभी लड़कियों के लिए सुरक्षा उद्देश्यों के लिए 14 फरवरी तक कम से कम एक बॉयफ्रेंड बनाना अनिवार्य है।

सर्कुलर में कहा गया है कि कॉलेज में सिंगल लड़कियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इसके अलावा  छात्राओं को अपने प्रेमी के साथ हाल की तस्वीर दिखाने के लिए भी कहा गया है।
वेलेंटाइन डे से पहले आगरा कॉलेज ने सर्कुलर में लड़कियों को बॉयफ्रेंड बनाने को कहा! सर्कुलर  जारी करने वाले ‘प्राधिकरण’ का नाम प्रो. आशीष शर्मा, एसोसिएट डीन (अकादमिक अफेयर्स) सामने आया है।

सर्कुलर में कहा गया है कि कॉलेज में सिंगल लड़कियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इसके अलावा  छात्राओं को अपने प्रेमी के साथ हाल की तस्वीर दिखाने के लिए भी कहा गया है।

वहीं प्रोफेसर एस पी सिंह ने कहा कि कॉलेज में आशीष शर्मा नाम का कोई संकाय सदस्य नहीं है।

सिंह ने कहा, “यह पूरी तरह से शरारती कृत्य है, जिसका उद्देश्य कॉलेज की छवि को खराब करना है और इसके लिए जिम्मेदार लोगों के साथ गंभीरता से निपटा जाएगा। दोषियों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई के लिए हरि पर्वत थाने को सूचित किया है।”

वेलेंटाइन डे  का  हिन्दू संगठन विरोध करते  हैं|

–आईएएनएस