कलेक्टर ने किया 402 मकानों का नियमितीकरण


रायपुर। अनाधिकृत निर्माण के नियमितीकरण के लिए आज यहां कलेक्टर ओ.पी.चौधरी की अध्यक्षता में जिला कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में समिति की बैठक आयोजित हुई। बैठक में 402 प्रकरणों का निराकरण किया गया। इस तरह अनाधिकृत निर्माण के लिए चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत रायपुर जिले में अब तक कुल 7305 प्रकरणों का निराकरण किया जा चुका है। कलेक्टर ने नियमितीकरण के शेष प्रकरणों के निराकरण में तेजी लाने के निर्देश संबंधित विभागीय अधिकारियों को दिए है।
बैठक में कलेक्टर ओ.पी. चौधरी ने निर्देशित किया कि अनाधिकृत निर्माण के नियमितीकरण के लिए मास्टर प्लान के अनुरूप नक्षा तथा घर में दुकान खोले जाने पर उसमें पार्किंग की व्यवस्था अनिवार्य रूप से होना चाहिए। आवेदक द्वारा प्रस्तुत आवेदन में संलग्न समस्त दस्तावेजों पर निरीक्षणकर्ता अनिवार्य रूप से हस्ताक्षर करें। गैर आवासीय भवनों में वाहनों की पार्किंग व्यवस्था होने पर नियमितीकरण किया जाएगा। उन्होंने नियमितीकरण की कार्यवाही में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने कहा कि आवासीय एवं व्यावसायिक भवनों के नियमितीकरण के लिए सड़कों की चौड़ाई शासन द्वारा अलग-अलग निर्धारित की गई है। निर्धारित मापदंड पूरा होने पर ही नियमितीकरण किया जा सकेगा। ऐसे आवासीय भवन जो सड़क की सीमा में नही आते है उनका नियमितीकरण किया जाएगा। बैठक में नगर एवं ग्राम निवेश के संयुक्त संचालक विनीत नायर, नगर निगम के जोन कमिश्नर सहित समिति के अन्य सदस्यगण उपस्थित थे।