पंचतत्व में विलीन हुई बिंदेश्वरी बघेल बेटे भूपेश ने दी मुखाग्नि

सीएम बघेल की माता की अंतिम यात्रा में शामिल हुए कई दिग्गज

भिलाई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मां बिंदेश्वरी बघेल पंचतत्व में विलीन हो गयी। भिलाई के मुक्तिधाम में उनका अंतिम संस्कार किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपनी माता का पूरे विधि विधान के साथ अंतिम संस्कार किया और उन्हें मुखाग्नि दी। उनकी अंतिम यात्रा भूपेश कैबिनेट के तमाम मंत्री, कांग्रेस के तमाम पदाधिकारी – कार्यकर्ता समेत भाजपा के भी वरिष्ठ नेता गण शामिल हुआ।

              पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ रमन सिंह भी उनके अंतिम दर्शन करने भिलाई स्तिथ उनके निवास पहुंचे। जहाँ उन्होंने श्रद्धांजलि अर्पित कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को ढांढस बंधाया। और ईश्वर से उन्हें ये दुःख सहने की कामना की। उन्होंने कहा कि किसी भी बेटे के लिए मां का साया सर से उठना बहुत ही दुःखद है। इस दुःख की घड़ी में हम सब बघेल परिवार के साथ हैं। मां का साथ छोड़कर जाना परिवार के लिए सबसे कठिन समय होता है। मां सबको बहुत लाड प्यार करती रही है। माता जी आध्यात्मिक थीं, मैं उन्हें सादर नमन करता हूँ।

मंत्रिमंडल के साथ विपक्ष रहा मौजूद
सीएम भूपेश बघेल मंत्रीमंडल के सभी मंत्री के साथ-साथ पक्ष विपक्ष के लोग भी मौजूद थे। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, विक्रम उसेंडी और अन्य भाजपा नेता भी भूपेश बघेल के निवास पहुंचे और अपनी संवेदना व्यक्त की।

पखवाड़े भर से चल रहा था इलाज
आपको बता दें कि मुख्यमंत्री की माता बिंदेश्वरी बीतें 15 दिनों से राजधानी के एक निजी अस्पताल में भर्ती थी। जहां उन्हें हार्ट अटैक के बाद ईलाज के लिए भर्ती कराया गया था। हार्ट के साथ ही उनके किडनी में इंफेक्शन डाक्टरों ने डायग्नोस किया था। जिसका ईलाज लगातार किया जा रहा था। इस दौरान उनका डायलिसिस भी किया गया था। हालांकि डॉक्टरों के द्वारा लगातार उपचार के दौरान उनके स्वास्थ्य में सुधार की बात भी कहीं गई थी मगर ये सुधर बेहद धीमी गति से हो रहा था। रविवार की सुबह से ही उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई और शाम को उन्होंने अपनी अंतिम सांस ली।