ये है प्रदेश का सबसे छोटा मतदान केंद्र, यहां है केवल चार वोट…

छत्तीसगढ़ के कांटो तथा रेवला मतदान केन्द्र में भी हैं 20 से कम मतदाता

रायपुर। प्रदेश का सबसे छोटा मतदान केन्द्र है कोरिया जिले का मतदान केन्द्र सेराडांड। कोरबा लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत भरतपुर – सोनहत विधानसभा क्षेत्र के चंदहा ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम सेराडांड में स्थापित है, प्रदेश का सबसे छोटा मतदान केन्द्र। चार मतदाताओं वाला यह केन्द्र अस्थाई मतदान केन्द्र है। यहां केवल 4 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।जिसमें एक ही परिवार के तीन मतदाता एवं वन विभाग का एक कर्मचारी शामिल हैं। इनमें तीन पुरूष तथा एक महिला शामिल है। इसके अलावा भरतपुर – सोनहत क्षेत्र के ही कांटो और रेवला मतदान केन्द्र में भी 20 से कम मतदाता हैं।


सेराडांड मतदान केन्द्र अत्यंत दुर्गम स्थल सोनहत विकासखंड के चंदहा ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम सेराडांड में स्थापित किया गया है। जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर से लगभग 95 किलोमीटर की दूरी पर सेराडांड सोनहत विकासखंड के ग्राम पंचायत चंदहा से लगभग 12 किलोमीटर दूर है। इस केन्द्र तक पहुँचने के लिए पगडण्डीनुमा रास्ते से होते हुए जंगल एवं पहाड़ों के बीच से जाना पड़ता है। इसी प्रकार कांटो मतदान केन्द्र में कुल 11 मतदाता जिसमें 6 पुरूष तथा 5 महिला तथा रेवला मतदान केन्द्र में कुल 19 मतदाताओं में 10 पुरूष 9 महिला शामिल हैं। इसके पूर्व भी विधानसभा तथा लोकसभा निर्वाचन के लिए इन स्थानों पर मतदान केन्द्र बनाया गया था।