शपथ के बाद बोले चीफ जस्टिस पुराने केस मे आएगी तेज़ी

हाईकोर्ट के नए चीफ जस्टिस पी. आर. रामचंद्र मेनन ने ली शपथ

रायपुर। बिलासपुर हाईकोर्ट के नए चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन ने राजभवन में आज अपने पद और गोपनीयता की शपथ ली है। राजभवन में उन्हें राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई है। पी आर रामचंद्रन छत्तीसगढ़ में बतौर मुख्य न्यायाधीपति 12 वे चीफ जस्टिस है। अपने पद और गपोनियता की शपथ लेने के बाद उन्हें राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने शुभकामनाएं प्रेषित की।

                                    इसके साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी उनसे मुलाकात कर बधाई और शुभकामनाएं दी है।इसके के आलावा मंत्री शिव डहरिया, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, और स्कुल शिक्षा मंत्री खेलसाय सिंह भी इस शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद रहे। शपथ ग्रहण करने के बाद मीडिया से चर्चा के दौरान चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन ने कहा कि प्रदेश में न्याय के लिए कोई भी व्यक्ति न भटके इसका हर संभव प्रयास करूँगा। वहीं उन्होंने ये भी कहा कि प्रदेश के हाईकोर्ट में पांच साल से पेंडिंग केस को जल्द से जल्द ख़त्म करना मेरी प्राथमिकता होगी।

अजय त्रिपाठी के बाद सम्हालेंगे ज़िम्मेदारी
आपको बता दें कि पीआर रामचंद्र मेनन केरल हाईकोर्ट के सीनियर जज रहे हैं। कुछ समय पहले बिलासपुर हाईकोर्ट के तत्कालीन चीफ जस्टिस अजय कुमार त्रिपाठी को लोक आयोग का सदस्य बना दिया गया है। इसके चलते उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। जिससे जस्टिस अजय कुमार त्रिपाठी की जगह रामचंद्र मेनन को नियुक्त किया गया है।