सीएम भूपेश की माता का निधन कल 11 बजे निकलेगी अंतिम यात्रा

सीएम भूपेश की माँ का हार्ट अटैक के बाद चल रहा था ईलाज़

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता बिंदेश्वरी बघेल का निधन हो गया है। मुख्यमंत्री की माता बिंदेश्वरी बीतें 15 दिनों से राजधानी के एक निजी अस्पताल में भर्ती थी। जहां उन्हें हार्ट अटैक के बाद ईलाज के लिए भर्ती कराया गया था। हार्ट के साथ ही उनके किडनी में इंफेक्शन डाक्टरों ने डायग्नोस किया था। जिसका ईलाज लगातार किया जा रहा था। इस दौरान उनका डायलिसिस भी किया गया था।


हालांकि डॉक्टरों के द्वारा लगातार उपचार के दौरान उनके स्वास्थ्य में सुधार की बात भी कहीं गई थी मगर ये सुधर बेहद धीमी गति से हो रहा था। रविवार की सुबह से ही उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई और शाम को उन्होंने अपनी अंतिम सांस ली। मिली जानकारी के मुताबिक जिस वक्त बिंदेश्वरी बघेल ने अंतिम सांस ली, उस वक्त सुबे के मुखिया और उनके बेटे भूपेश बघेल उनके साथ ही थे। सीएम भूपेश बघेल की माता बिंदेश्वरी के निधन की खबर जैसे ही फैली, वैसे ही कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेता मंत्री, विधायक और कार्यकर्ताओं का अस्पताल में पहुंचे।

कल भिलाई में होगा अंतिम संस्कार
मिली जानकारी के मुताबिक बिंदेश्वरी बघेल का अंतिम संस्कार कल सुबह 11:00 बजे किया जाएगा। इससे पहले मुख्यमंत्री की माता का पार्थिव शरीर भिलाई स्थित उनके निवास पर अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। इसके बाद कल सुबह पदुमनगर स्थित सीएम भूपेश बघेल के निवासी मुक्तिधाम के लिए बिंदेश्वरी बघेल की शव यात्रा निकलेगी।

संबंधित पोस्ट

मुख्यमंत्री भूपेश ने दिलाई 15 संसदीय सचिवों को शपथ,सीएम हाउस में था आयोजन

भूपेश कैबिनेट की बैठक में शिक्षाकर्मी संविलियन पर मुहर,गोधन न्याय योजना को मंत्रिमंडल का अनुमोदन

मुख्यमंत्री भूपेश ने की गोधन न्याय योजना के क्रियान्वयन की तैयारियों की समीक्षा

छत्तीसगढ़ में 15 संसदीय सचिवों की सूची जारी,3 महिला विधायक के नाम शामिल

Video : कैबिनेट मंत्रियों के राज्यपाल से भेंट पर छत्तीसगढ़ में मचा राजनितिक बवाल

कोरोना वैश्विक महामारी के दौर में मुख्यमंत्री भूपेश ने वृद्धाश्रम के बुजुर्गाें से की चर्चा

रमन को रविंद्र का करारा जवाब,ब्लू प्रिंट के बजाय खोजे अपना ब्लैक प्रिंट

छत्तीसगढ़ फिर देश में अव्वल,लघु वनोपजों के संग्रहण में देश में छत्तीसगढ़ नंबर वन

कांकेर का ये गांव विकास से कोसो दूर, राज्य सरकारो ने बिना विकास लूटी वाहवाही

छत्तीसगढ़ में कुपोषण मुक्त करने ‘मुनगा’ पौधारोपण का विशेष अभियान

छत्तीसगढ़ में गोबर ने किया कमाल, समूह की महिलाएं हुई मालामाल

गरीब कल्याण योजना छत्तीसगढ़ में लागू नहीं होने से कांग्रेस ने जताई नाराजगी