स्ट्रांग रूम में कैद रायपुर के 25 प्रत्याशियों की क़िस्मत

स्ट्रांग रूम की सुरक्षा सीआरपीएफ और पुलिस के 400 जवान तैनात

रायपुर। छत्तीसगढ़ में तीनों चरणों के चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो चुके है। जिसके बाद अब निर्वाचन अमला ईवीएम की सुरक्षा को लेकर बेहद संजीदा है। लिहाज़ा रायपुर समेत तमाम सात लोकसभा सीटों की ईवीएम और वीवीपैट मशीन को स्ट्रांग रूम में सील बंद कर दिया गया है।

स्ट्रांग रूम                 रायपुर लोकसभा सीट के सभी ईवीएम और वीवीपैट को निर्वाचन आयोग ने सेजबहार स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज को स्ट्रांग रूम बनाकर रखा गया है। इन ईवीएम को स्ट्रांग रम में रखने के बाद 23 मई तक के लिए सील कर दिया गया है। स्ट्रांग रुम को सील करने के दौरान रायपुर एसएसपी आरिफ शेख, जिला निर्वाचन अधिकारी एस बसवराजु मौज़ूद रहे। इसके साथ कांग्रेस और भाजपा समेत तमाम प्रत्याशियों के एजेंट भी मौजूद रहे। स्ट्रांग रुम सील बंद करने के बाद मीडिया से चर्चा के दौरान एसएसपी आरिफ़ शेख ने कहा कि चुनाव के बाद ईवीएम को जमा करने के साथ गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज में तमाम जिम्मेदार अधिकारियों और राजनीतिक दलों के वरिष्ठ नेताओं के सामने स्ट्रांग रूम को सील किया गया है। साथ ही तगड़ी सुक्षा व्यवस्था भी स्ट्रांग रूम की रखी गई है।

छावनी में तब्दील हुआ इंजीनियरिंग कॉलेज
प्रत्याशियों की किस्मत अब ईवीएम और वीवीपैट में कैद हो चुकी है। लिहाज़ा इसकी तगड़ी सुरक्षा व्यवस्था के लिए निर्वाचन आयोग ने रायपुर पुलिस को निर्देशित किया है। सेजबहार के इंजीनियरिंग कालेज को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया गया है। कालेज में सीआरपीएफ और पुलिस के 400 से ज्यादा जवानों को तैनात किया गया है। इसके आलावा सीसीटीवी के जरिए स्ट्रांग में लगातार नजर रखी जा रही है। वहीं स्ट्रांग रम के भीतर की लाईव तस्वीर बाहर प्रोजेक्टर के जरिए देखि जा सकती है साथ ही निर्वाचन आयोग में भी इसकी लाइव स्ट्रीमिंग दी गई है जिससे लगातार स्ट्रांग रूम की निगरानी की जा सके।