मिर्जा मसूद सम्मान समारोह हुई मसूद की रंग यात्रा की प्रस्तुती

नाटककार, लेखक, गायन एवं रंगकर्मी भी है मिर्जा मसूद

रायपुर। मिर्जा मसूद एक बहुत बड़े रंगकर्मी, लेखक, नाट्यकार है। मिर्जा मसूद के जन्मदिन पर रंग मंदिर में रंग कर्मियों द्वारा मिर्जा मसूद कि 75 वी वर्षगांठ मनाई। इस कार्यक्रम में सभी रंगकर्मी नाटककार लेखक गीतकार और बुद्धिजीवी वर्ग उपस्थित रहे। मसूद साहब के जन्मदिन पर रंग कर्मियों द्वारा उनकी लिखे नाटक को मंच पर जिवंत किया। जिसका आयोजन फिल्म आर्ट एवं विजुअल ने बड़े ही खूबसूरत तरीके से किया।

मिर्जा मसूद सम्मान समारोह                                 मिर्जा मसूद सम्मान समारोह समिति के संयोजक डॉ अनुराधा दुबे ने कहा कि मिर्जा मसूद के जन्मोत्सव पर रचनात्मक साक्ष्य पर केंद्रित एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन रंग मंदिर में किया गया। साथ ही यह भी बताएं कि मुझे मसूद की रंग यात्रा को यहां पर दृश्य रूप में प्रस्तुत किया गया। जिसमें नाटकों के गीत नृत्य,नाटयांश प्रस्तुति माटी की गाड़ी, अंधा युग, न सूपना का सपना, पगला घोड़ा जैसे अन्य नाटकों की प्रस्तुतियां जीवंत रूप में दी गई। इन प्रस्तुतियों को देखकर दर्शक गण मंत्र मुग्ध हो गए।

मिर्जा मसूद सम्मान समारोहसाथ में यह भी कहा कि मिर्जा मसूद का जन्म दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य भी है कि आज की युवा पीढ़ी जो रंगकर्मी नाटक गायन सबको भूलती जा रही है वापस उन चीजों को समझे और जाने क्योंकि इन सभी का जीवन में एक बहुत बड़ा योगदान है इन सब के जरिए आदमी मानसिक तनाव से दूर होता है।